DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मानसून सिर पर, पूरी नहीं हुईं नालों की सफाई

नई दिल्ली प्रमुख संवाददाता। अगले एक-दो दिनों में दिल्ली में मानसून आने की पूरी संभावना है, लेकिन, नगर निगम अभी भी सभी नालों की सफाई का काम पूरा नहीं कर पाया। बुधवार को भी दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के कई हिस्सों में नालों की सफाई का काम होता रहा। जबकि, कुछ जगहों पर नालों से निकाली गई गाद को साफ नहीं किए जाने से भी लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बुधवार को दिल्ली के कई हिस्सों में जमकर बरसात हुई।

इसे मानसून पूर्व हुई बरसात माना जा रहा है। जबकि, मौसम विभाग अगले कुछ दिनों में मानसून के पूरी तरह आने का पूर्वानुमान कर रहा है। इसके बावजूद नालों की सफाई का काम अभी तक निगम पूरा नहीं कर सका है। अगस्त क्रांति मार्ग, मालवीय नगर जैसे दक्षिणी दिल्ली के हिस्सों में कई जगहों पर बुधवार को निगम कर्मचारियों ने गाद निकालने का काम किया। जबकि, कुछ जगहों पर गाद निकालकर छोड़ दिया गया है। इससे वहां से गुजरने वालों को तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

निगम कर रहा बड़े-बड़े दावे:--238 नालों की सफाई करने का दावा कर रहा निगम--09 नालों से गाद निकालने का काम किया जा रहा है--39,236 मीट्रिक टन गाद अब निकाला जा चुका है--168 किलोमीटर की लंबाई बराबर नालों की हुई सफाईतीसरे दिन उठाई जाती है गाद:निगम अधिकारियों का कहना है कि नाले से गाद निकालने के तुरंत बाद उठाना संभव नहीं होता। इसे थोड़ा सूखने के बाद उठाया जाता है। अमूमन गाद निकालने के तीसरे दिन बाद गाद उठाया जाता है। इसे गाड़ी में लादने में भी आसानी होती है।

लक्ष्य हो चुका है पूरा:-- नालों से गाद निकालने का लक्ष्य पूरा हो चुका है। लेकिन, यह लगातार चलने वाली प्रक्रिया है। क्योंकि, रोज-रोज बनती है, ऐसे नाले जहां महीने भर पहले सफाई की गई है, वहां फिर सफाई की जरूरत पड़ती है। इसी क्रम में इन नालों की पुन: सफाई की जा रही है। मुकेश यादव, निदेशक प्रेस एवं सूचना, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मानसून सिर पर, पूरी नहीं हुईं नालों की सफाई