DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहीं फंसा पेंच तो 1.22 लाख नौकरियां पक्की

मेरठ। वरिष्ठ संवाददाता। कोई सरकारी पेंच नहीं फंसा और सबकुछ सही चला तो प्राइमरी स्कूलों से कॉलेजों तक 1.22 लाख नौकरियां पक्की हैं। इनमें से 1.11 लाख छात्रों को अगस्त तक ही नौकरी मिल जाएगी। इसके लिए प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। बाकी पदों पर छात्रों को नवंबर तक इंतजार करना पड़ेगा, लेकिन ये नौकरियां भी तय हैं।

वहीं, नियुक्ति प्रक्रिया शुरू होने छात्रों ने राहत की सांस ली है। प्रदेशभर में प्राइमरी स्कूलों में छात्रों को सर्वाधिक नौकरी जुलाई व अगस्त में मिलेंगी। प्राइमरी स्कूलों में 72825 शिक्षकों की नियुक्ति के आदेश शासन ने दे दिए हैं। इसी महीने इनकी कटऑफ आ जाएगी।

ये भर्तियां दसिंबर 2010 से लंबित पड़ी हैं। प्राइमरी शिक्षकों वाली यह प्रक्रिया साढ़े तीन साल से कोर्ट में फंसी थीं। प्राइमरी स्कूलों में ही बीटीसी उत्तीर्ण कर चुके दस हजार छात्रों को भी इसी महीने नौकरी मिलनी है।

इन छात्रों ने हाल में बीटीसी को पास किया है। इनमें से अधिकांश छात्र पहले बच के हैं। इसके बाद जूनियर स्कूलों में गणित-विज्ञान के 29 हजार पदों पर भी नियुक्ति शुरू होने जा रही है। इसी हफ्ते गणित-विज्ञान की कटऑफ आ जाएगी।

यानी जुलाई व अगस्त में प्राइमरी व जूनियर स्कूलों में एक लाख 11 हजार 825 छात्रों को नौकरियां मिल जाएंगी। 10 हजार 652 नौकरियों के लिए छात्रों को फिलहाल नवंबर तक इंतजार करना होगा। इन नियुक्ति में माध्यमिक स्कूलों में टीजीटी-पीजीटी के नौ हजार और डिग्री कॉलेजों के 1652 पद शामिल हैं।

टीजीटी-पीजीटी में 2010 और 2013 में जारी विज्ञापनों का अभी एंट्रेंस नहीं हुआ है। इन दोनों का नवंबर तक एंट्रेंस संभव है। वहीं डिग्री कॉलेजों में 1652 शिक्षकों के लिए प्रक्रिया जारी है। इसके लिए भी आगामी कुछ महीनों में एंट्रेंस प्रस्तावित है।

जीआईसी में आठ हजार नौकरियों का भी इंतजार

 जो छात्र प्राइमरी और जूनियर स्कूलों में आवेदन नहीं कर पाए, उन्हें अब जीआईसी की नियुक्तियों का भी इंतजार है। इन कॉलेजों में करीब आठ हजार पदों पर भर्तियां होनी है।

सरकार जल्द ही जीआईसी में आठ हजार पदों पर रिक्तियां जारी कर सकती हैं। 2011 के लंबित पदों पर भी भर्ती इसी दौरान शुरू हो जाएगी। यानी प्राइमरी व जूनियर में वंचित छात्रों के लिए जीआईसी में मौका मिलने की उम्मीद है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नहीं फंसा पेंच तो 1.22 लाख नौकरियां पक्की