DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टमाटर हो रहा लाल, प्याज भी रुलाने को तैयार

गाजियाबाद। वरिष्ठ संवाददाता। सब्जियों के भाव में पिछले कुछ दिनों में तेजी आ गई है। मंडी में प्याज और आलू की कीमतों में जोरदार उछाल देखने को मिला है। यही हाल टमाटर का भी है। भिंडी भले ही 10 दिन में 15 रुपये किलो के भाव पर स्थिर हो, लेकिन भिंडी उगाने वाले किसान इसे मात्र तीन रुपये किलों बेचने को मजबूर हैं।

सब्जी विक्रेता मॉनसून के चलते आने वाले दिनों में सब्जियों की कीमतों में बढ़ोतरी की उम्मीद जता रहे हैं। मंडी में सब्जियों के भाव में इन दिनों उछाल आ रहा है। अधिकांश सब्जियों की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है। भिंडी एकमात्र ऐसी सब्जी है जिसकी कीमत नहीं बढ़ी, लेकिन उसके उत्पादक बेहद कम कीमत मिलने से परेशान हैं। गाजियाबाद में रोजाना करीब 100 ट्रक सब्जियों की आवक है। साहबिाबाद फल एवं सब्जी मंडी में आने वाला माल ही शहर के दूसरे हिस्सों में बिक्री के लिए जाता है।

कुछ सब्जियों में आने वाले दिनों में थोक और रिटेल में पॉश कालोनियों में दोगुने का अंतर आ जाएगा। मौसम की वजह से सबसे अधिक प्याज की कीमतों में असर है। नासिक में रेटों में बढ़ोतरी होने से आने वाले दिनों में भी प्याज के दाम बढ़ने के आसार हैं। जबकि अन्य सब्जियों में मानसून की आहट के चलते वृद्धि हो रही है। -श्रीपाल यादव, अध्यक्ष, आलू प्याज वेलफेयर एसोसिएशन --सब्जियों के रेट में आया उछाल (रुपये/किलो,10 दिन में)सब्जी मौजूदा भाव पूर्व कीमतप्याज 25-30 20भिंडी 15 15 टमाटर 15-20 10 आलू 20-22 16 गोभी 50-60 30 हरी मिर्च 20 10 धनिया 40 20लौकी 15 10अरबी 20-25 15--किसान परेशान, मिल रहे कम दाममंडी में भिंडी भले ही 15 रुपये किलो बिक रही हो, लेकिन हमारे यहां से भिंडी बामुश्किल दो से तीन रुपये किलो बिक रही है।

भिंडी खूब है, लेकिन खरीदार कम मिल रहे हैं। अशोक कुमार, नविाड़ी (भिंडी उत्पादक)--मंडी में हमारे यहां से आलू 12 से 15 रुपये किलो जा रहा है जबकि पॉश कालोनियों में यही आलू 25 रुपये किलो तक बिक रहा है। खीरा हम डेढ़ से ढाई रुपये किलो में बेच रहे हैं जबकि बाजार में यही खीरा 10 रुपये किलो है। जगदेव त्यागी, बहादरपुर (आलू उत्पादक)।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टमाटर हो रहा लाल, प्याज भी रुलाने को तैयार