DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीतमपुर में डायरिया के कहर पर ‘हिन्दुस्तान’ ने खोली आंखें

बरेली/बिथरी। प्रमुख संवाददाता। रजऊ इलाके में डायरिया बेकाबू हो गया है। पीतमपुर का पड़ोसी गांव सुंदरपुर गौटिया भी डायरिया की चपेट में आ गया। महिलाएं, बच्चों और बुजुर्ग सभी डायरिया के शिकार हो रहे हैं। मंगलवार को केवल जिला अस्पताल में 12 डायरिया मरीज भर्ती कराए गए।

इनमें छह बच्चों हैं। दोनों गांव में अब तक 50 से अधिक लोग डायरिया की गिरफ्त में आ गए हैं। वहीं ‘हिन्दुस्तान’ की खबर पढ़ते ही कमशि्नर ने हेल्थ अफसरों से रिपोर्ट मांगी। कमशि्नर की सख्ती के बाद सरकारी अमला गांव की ओर दौड़ पड़ा। वहां घर-घर जाकर मरीजों की जांच करने के अलावा गांव की सफाई व्यवस्था भी देखी। रजऊ इलाके के गांव पीतमपुर में रविवार देर रात लोगों की हालत बिगड़नी शुरू हुई थी। बच्चों, बुजुर्ग और महिलाएं सबको उल्टी और दस्त शुरू हो गए थे।

जैसे-तैसे रात गुजारने के बाद सोमवार सुबह गांव वाले मरीजों को लेकर डाक्टरों के पास दौड़ पड़े। पीतमपुर के जितेंद्र की दो साल बेटी उन्नति की मौत भी हो गई। इसके बाद मंगलवार को पीतमपुर और सुंदरपुर गोटिया गांव के करीब 30 लोगों की डायरिया से हालत बिगड़ गई। गांव के लोग एंबुलेंस 108 से मरीजों को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। एंबुलेंस ने जिला अस्पताल के चार चक्कर लगाए। एक के बाद मरीजों को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। पीतमपुर के छह बच्चों को नाजुक हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

इनमें संतोष की बेटी कनक (5) और नीलम (8) भी शालिम हैं। दोनों का दो दिन से गांव में इलाज चल रहा था। फिलहाल बच्चों की हालत में सुधार हैं। गांव वालों ने भूजल प्रदूषित होने की बात भी कही है। इनसेटजिला अस्पताल में भर्ती पीतमपुर के मरीज० मानव (3)० तान्या (8)० कनक (5)० नीलम (8)० ईशी (4)० वंशिका (3)० किरन देवी (40)० पुष्पा देवी (50)० सपना (20)० श्रीकृष्ण (60)० गौरव (19)० विकास पटेल (24)कोट डायरिया मरीजों का चेकअप और दवाएं लेकर टीमों को पीतमपुर और सुंदरपुर गोटिया भेजा गया है।

मरीजों को हर संभव इलाज मुहैया कराया जा रहा है। डायरिया की रोकथाम के लिए जरूर कदम उठाए जा रहे हैं। - डा. योगेंद्र कुमार, एडी हेल्थ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पीतमपुर में डायरिया के कहर पर ‘हिन्दुस्तान’ ने खोली आंखें