DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सूचना मांगी तो जेल की हवा

शिवप्रकाश राय को 2दिनों तक जेल की हवा खानी पड़ी। उनकी खता यही थी कि बक्सर के जिलाधिकारी से उन्होंने जिला के सभी 6बैंकों से पीएमआरवाई, एमएसटीपी और टैक्टर पर अनुदानित योजना की सूचना मांगी थी। मनेर के चन्द्रदीप सिंह को 23 दिनों तक जेल में रहना पड़ा। उनका दोष यह था कि पुत्र-पुत्री की हत्या और सम्पत्ति हड़पने के साथ जानमाल की सुरक्षा की जानकारी चाही थी।ड्ढr ड्ढr बिहार सूचना का अधिकार मंच की संयोजिका परवीन अमानुल्लाह ने मंगलवार को ऐसे 14 मामलों की सूची जारी की। इसमें सूचना मांगने के बदले आवेदन करनेवालों के उपर झूठे मुकदमे दायर कर प्रताड़ित करने की कार्रवाई की जा रही है। शिवप्रकाश राय और चन्द्रदीप सिंह के अलावा उन्होंने बताया कि पीडितों में पटना जिला के परसा बाजार के वीरन्द्र कुमार सिंह, सम्पतचक की पिंकी देवी, पुनपुन थाना के कुणाल मोची, पुनपुन के रामबचन राम, नालंदा जिला के युगल किशोर, दरभंगा जिला के सुनील कुमार झा, चिरैयाटांड,पटना के जयप्रकाश, सारण जिला के वीरन्द्र कुमार साह, नालंदा के पुरुषोत्तम प्रसाद और धनरुआ थाना के उमेश शर्मा शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सूचना मांगी तो जेल की हवा