DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा यूपी में अराजकता फैला रही : सरकार

लखनऊ विशेष संवाददाता। भारतीय जनता युवा मोर्चा के सोमवार को हुए हिंसक प्रदर्शन पर सरकार और सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी ने विधानसभा में मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी पर हल्ला बोल दिया। संसदीय कार्य मंत्री आजम खां ने कहा कि विधानसभा की सुरक्षा को खतरा है। उन्होंने कहा कि विधान भवन से 50 गज दूर के सभी राजनीतिक दलों के दफ्तर हटाए जाने की जरूरत है।

गौरतलब है कि भाजपा का प्रदेश कार्यालय इसी दूरी के दायरे में विधानभवन के ठीक विपरीत स्थित है। इस मुद्दे पर सपा और भाजपा सदस्यों में तीखी नोंक-झोंक हुई। इस तरह प्रश्नकाल आधे घंटे नहीं हो पाया। उस समय मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सदन में मौजूद थे।

महंगाई से ध्यान बंटाने को यह रवैया : सदन की कार्यवाही शुरू होते ही संसदीय कार्य मंत्री आजम खां ने भाजपा की तरफ इशारा करते हुए कहा कि अपने राजनीतिक लक्ष्यों को हासिल करने के लिए किस स्तर तक जाएंगे? सियासी फायदा लेने के लिए किए गए इस प्रदर्शन में पुलिसकर्मियों को पीटा गया।

वाहन तोड़े गये और सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाया गया। अस्पताल से मरीजों को बाहर किया गया। कार्यालय में हथियार जमा किए गए। बम चलाए गए। इससे जाहिर होता है कि यह पार्टी सूबे में अस्थिरता पैदा करके साम्प्रदायिकतापूर्ण माहौल बनाना चाहती है।

डीजल पेट्रोल, चीनी, प्याज वगैरह के दामों में बढ़ोतरी हो रही है। इसे रोकने के बजाय वे ऐसे विरोध प्रदर्शन करके लोगों का ध्यान भटकाने की कोशशि कर रहे हैं।

भीड़ विधानसभा में भी घुस सकती थी : उन्होंने कहा कि विधानभवन के सामने एक पार्टी के प्रदर्शन के दौरान जो हुआ उससे मुख्यमंत्री, मंत्रियों और विधायकों की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा हो गया है।

पथराव से विधान भवन के शीशे भी टूट गये। भीड़ अगर विधानसभा में घुस जाती तो यहां का हाल क्या होता, सोचा जा सकता है। उन्होंने भाजपा की तरफ इशारा करते हुए कहा कि ऐसी पार्टियों के दफ्तरों की विधान भवन से दूरी महज 50 गज है।

उन्हें यहां से हटाए जाने की आवश्यकता है। श्री खां ने कहा हमें यह देखना होगा कि विधानसभा सुरक्षित रहे। जमकर हुई नोंक-झोंक : इस पर भाजपा के सतीश महाना ने कहा कि प्रदेश में जिस तरह का वातावरण है, कानून-व्यवस्था समाप्त हो गयी है।

वे अभी अपनी बात पूरी करते कि सपा सदस्य भाजयुमो के प्रदर्शन, पथराव व तोड़फोड़ की अखबारी खबरों की फोटो कॉपी सदन में लहराने लगे। कैबिनेट मंत्री अम्बिका चौधरी ने कहा कि एक पार्टी प्रदेश में कानून-व्यवस्था खराब कर रही है। वह अपने दफ्तर में तेजाब की बोतलें, घातक हथियार, बम जमा करती है और हमला करती है। श्री महाना ने कहा कि हमारी आवाज इस तरह दबायी नहीं जा सकती है। इस पर सपा व भाजपा के सदस्यों में नोंक-झोंक होने लगी।

विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय ने सपा तथा भाजपा सदस्यों को सदन की कार्यवाही सुचारु रूप से चलाने में मदद का आग्रह किया लेकिन हंगामा न थमता देख उन्होंने कार्यवाही पहले 10 मिनट के लिए और फिर 20 मिनट के लिये स्थगति कर दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भाजपा यूपी में अराजकता फैला रही : सरकार