DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गैंगरेप का मुख्य आरोपी निकला पीड़िता का चचेरा भाई

हमारे संवाददाता पलवल। कैंप थाना क्षेत्र में एक नाबालिग का घर से अपहरण कर उसके साथ हुए गैंगरेप के मामले में मुख्य आरोपी पीडिता का चचेरा भाई ही निकला। पीडिता की हालत अस्पताल में गंभीर बनी हुई है। मामले में लिप्त सभी आरोपियों की तलाश की जा रही है। ये था मामला : रेप पीड़ित नाबालिग के पिता ने कैंप थाना पुलिस को शिकायत दी थी कि रविवार की रात को कुछ युवकों ने उसकी बेटी का घर से अपहरण कर उसके साथ गैंगरेप किया।

घटना को अंजाम देने के बाद चारों आरोपी उसकी बेटी को घायल हालत में नहर के समीप झाडिम्यों में छोड़कर फरार हो गए। इस मामले में लिप्त पीड़िता का चचेरा भाई पुनीत मुख्य आरोपी है, जिसने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। पीड़िता के पिता ने बताया कि उसकी बेटी को सरकारी अस्पताल में दाखिल कराया गया है, जहां उसकी हालत गंभीर है। उसका कहना है कि दवा का असर खत्म होने के बाद उसे एक दौरा सा आने लगता है और लंबे-लंबे सांस लेने लगती है।

उसकी हालत ठीक नहीं है। पुलिस ने मामले में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। जहरीला पदार्थ खाने से महिला की मौतहमारे संवाददातापलवल। सदर थाना क्षेत्र में जहरीला पदार्थ खाने से उपचार के दौरान महिला की मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल भिजवा दिया। पुलिस के अनुसार जांच अधिकारी रामबीर डागर ने बताया कि गांव दुधौला निवासी 40 वर्षीय प्रेमवती काफी दिनों से किसी बीमारी से पीड़ित थी।

बीमारी से दुखी होने के कारण रविवार को उसने कोई जहरीला पदार्थ खा लिया। जिससे उसकी तबीयत खराब होने लगी और गंभीर हालत में उसे निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया। जहां प्रेमवती की हालात को देखते हुए डाक्टरों ने उसे फरीदाबाद के लिए रेफर कर दिया। लेकिन मंगलवार को उपचार के दौरान प्रेमवती ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव का सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवा कर उसके परिजनों को सौंप दिया। एंकर - पृथला , गांव दुधौला में भूलवश जहरीला पदार्थ खाने से एक 40 वर्षीय महिला की उपचार के दौरान मौत हो गई ।

पुलिस ने मृतका के शव को पोस्टमार्टम के लिए पलवल सिविल अस्पताल भिजवा दिया है। पुलिस मामले की जाँच में जुटी है। वीओ - पुलिस जाँच अधिकारी रामबीर डागर ने बताया कि गांव दुधौला निवासी 40 वर्षीय प्रेमवती किसी बीमारी से पी?ित थी जिसके चलते गत रविवार को प्रेमवती ने भूलवश दवाई समझकर घर में रखा जहरीला पदार्थ खा लिया। जिससे उसकी तबीयत बिगडनम्े लगी और उसे उपचार के लिए पलवल के निजी अस्पताल में दाखिल कराया गयां। जहां प्रेमवती हालात को गंभीर देखते हुए चिकित्सकों ने प्रेमवती को फरीदाबाद के लिए रेफर कर दिया।

जहां उपचार के दौरान मंगलवार सुबह प्रेमवती की मौत हो गई। मौत की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पलवल सिविल अस्पताल भिजवा दिया। फिलहाल पुलिस ने मृतका के परिजनों के बयान धारा-174 की कार्यवाही कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गैंगरेप का मुख्य आरोपी निकला पीड़िता का चचेरा भाई