DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऊंची कटऑफ के साथ कड़ी शर्तें

ऊंची कटऑफ के साथ कड़ी शर्तें

दिल्ली विश्वविद्यालय की पहली कटऑफ जारी हो चुकी है। तीन वर्षीय कोर्स के तहत कॉलेजों ने कटऑफ जारी करने के साथ कड़ी शर्ते लगाई हैं। जहां सभी कॉलेजों ने बीकॉम के लिए 12वीं में गणित को अनिवार्य किया है वहीं रामजस ने मैथ ऑनर्स के लिए 12वीं के गणित में न्यूनतम 95 फीसदी अंक होने की शर्त रखी है।

रामजस ने इकोनॉमिक्स ऑनर्स के लिए 12वीं में बिजनेस मैथमेटिक्स में कम से कम 90 फीसदी अंक की शर्त रखी है। इसके अलावा राजनीति जो छात्र राजनीति विज्ञान ऑनर्स करना चाहते हैं और उनके 12वीं के राजनीति विज्ञान विषय में 88 फीसदी या उससे अधिक है तो छात्रों को कटऑफ में दो फीसदी की छूट दी जाएगी। लेकिन जानकारों का कहना है कि 88 फीसदी की शर्त कड़ी है। 

उधर, आउट ऑफ कैंपस कॉलेजो में शहीद भगत सिंह कॉलेज ने इकोनॉमिक्स ऑनर्स के लिए गणित को जरूरी बताया है। साथ ही इकोनॉमिक्स के लिए 12वीं में न्यूनतम गणित में 70 फीसदी अंक होने जरूरी है। इसके अलावा कॉलेज ने बीकॉम ऑनर्स के लिए 12वीं के गणित में 50 फीसदी अंक की शर्त रखी है। वहीं मैथ ऑनर्स के लिए गणित में न्यूनतम 75 फीसदी अंक होने जरूरी है। डीयू के नामी कॉलेज एसआरसीसी ने भी इस तरह के मानक बनाए हैं।

संस्कृत में छात्राओं को दो फीसदी की छूट : रामजस ने संस्कृत ऑनर्स के लिए छात्राओं को कटऑफ में दो फीसदी की छूट देने का ऐलान किया है। कॉलेज के मुताबिक छात्राओं को बेस्ट फोर में दो फीसदी की रियायत मिलेगी। इसके अलावा इसी कॉलेज ने हिन्दी ऑनर्स में भी छात्राओं को दो फीसदी की छूट देने का फैसला किया है। राजनीति विज्ञान ऑनर्स में भी छात्राओं को छूट मिलेगी। एक फीसदी की छूट कटऑफ में दी जाएगी।

54000 कुल सीटें हैं दिल्ली विश्वविद्यालय में
09 बजे सुबह से दोपहर एक बजे तक दाखिला मिलेगा
04 बजे शाम से 07 बजे तक सांध्य कॉलेजों में दाखिला होगा

किस कटऑफ पर कब दाखिला
दूसरी कटऑफ: 04 जुलाई
दाखिला: 04 से 07 जुलाई
तीसरी कटऑफ: 08 जुलाई
दाखिला: 08 से 10 जुलाई
चौथी कटऑफ: 11 जुलाई
दाखिला: 11 से 12 जुलाई
पांचवीं कटऑफ: 14 जुलाई
दाखिला: 14 से 15 जुलाई
छठी कटऑफ: 16 जुलाई
दाखिला: 16 से 17 जुलाई
सातवीं कटऑफ:18 जुलाई
दाखिला: 18 से 19 जुलाई
आठवीं कटऑफ: 21 जुलाई
दाखिला: 21 से 22 जुलाई

अंक भी कटेंगे
शहीद भगत सिंह के अंक काटने के मानक बनाए हैं। इसके मुताबिक यदि छात्र ने 12वीं में हिन्दी नहीं पढ़ी है और हिन्दी ऑनर्स करना चाहता है तो उसके बेस्ट फोर के अंक में से पांच फीसदी अंकों की कटौती की जाएगी। इसके अलावा हिन्दी इलेक्टिव वर्ग में पढ़ने वालों को बेस्ट फोर में दो फीसदी अधिक अंक दिए जाएंगे।

66 कॉलेजों ने विभिन्न कोर्स की कटऑफ में इस तरह से दाखिले के अतिरिक्त मानक तैयार किए हैं। डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर जेएम खुराना का कहना है कि कॉलेजों को शर्तें लगाने का अधिकार है इसलिए छात्रों को चाहिए कि कॉलेज के मानक अच्छे से पढें और उसके बाद आवेदन करें।

बेस्ट फोर में दो वोकेशनल
शहीद भगत सिंह कॉलेज ने तीन साल के बीए प्रोग्राम कोर्स में दाखिले की शर्तों में कुछ अहम बदलाव किए हैं। इसके तहत छात्र बेस्ट फोर कोर्स में दो वोकेशनल कोर्स को शामिल कर सकता है। पहले छात्रों को बेस्ट फोर में एक ही वोकेशनल कोर्स को शामिल करने की छूट दी जाती थी। बेस्ट फोर एक लैंग्वेज और तीन इलेक्टिव एकेडमिक विषयों के आधार पर निकाला जाएगा।

हेल्पलाइन नंबर  :
नॉर्थ कैंपस :
23922480 27667725
साउथ कैंपस : 24111955
सूचना केंद्र : 155215, 27006900

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऊंची कटऑफ के साथ कड़ी शर्तें