DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीयू: पहली कटऑफ 99 फीसदी के पार, आज से दाखिले शुरू

डीयू: पहली कटऑफ 99 फीसदी के पार, आज से दाखिले शुरू

पहली कटऑफ का दाखिला एक जुलाई से तीन जुलाई तक मिलेगा। ऐसे में, दाखिले के लिए तैयारी करें और दस्तावेजों को साथ ले जाना न भूलें, क्योंकि मूल प्रमाण-पत्र दिखाने पर ही सीट जारी की जाएगी। डीयू ने कहा है कि छात्रों को पहली सूची पर तुरंत सीट पक्की करनी चाहिए। कॉलेजों में सुबह नौ बजे से दोपहर एक बजे तक दाखिला मिलेगा।

वहीं सांध्य कॉलेज शाम चार बजे से सात बजे तक दाखिला देंगे। डिप्टी डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर गुलशनी साहनी ने साफ किया है कि कॉलेज दाखिले के लिए ज्यादा समय नहीं देंगे, केवल निर्धारित समय के भीतर ही दाखिला मिलेगा। उन्होंने अपील कर कहा कि छात्रों को चाहिए कि वे दूसरी कटऑफ का इंतजार ने करें, जिस कोर्स में दाखिला मिले उसकी सीट तुरंत पक्की करें क्योंकि इस बार रिकॉर्ड ढाई लाख छात्रों ने आवेदन किया है। ऐसे में, कई कोर्स की दूसरी कटऑफ की उम्मीद कम है।

ओबीसी वर्ग के लिए मौजूदा वित्तीय वर्ष में बना जाति प्रमाण-पत्र होना जरूरी है। जो छात्र पुराना जाति प्रमाण-पत्र देंगे, उन्हें दाखिला नहीं मिलेगा क्योंकि हाल में केंद्र सरकार द्वारा ओबीसी वर्ग की क्रीमी लेयर को दोबारा से निर्धारित किया गया है। बता दें कि प्रमाण-पत्र छात्र के नाम पर ही होना चाहिए। यदि किसी का सर्टिफिकेट बनकर नहीं आया है, तो वो स्लिप दिखा आवेदन कर सकते हैं।

प्रिंटआउट होगा अहम
जिन्होंने हाल में पंजीकरण कराया था उन्हें दाखिले के लिए कॉलेजों को ओएमआर फॉर्म का प्रिंटआउट दिखाना होगा। भले ही आवेदन आफलाइन हुआ हो या फिर ऑनलाइन। बिना प्रिंटआउट के कॉलेज दाखिला नहीं देंगे। इसके अलावा जिन्होंने आवेदन नहीं किया था, 2012 की दाखिला नीति के तहत उन्हें कॉलेजों में जाकर पंजीकरण कराना होगा।

पंजीकरण के लिए 100 रुपये का शुल्क देना होगा। ये दस्तावेज हैं अहम-10वीं और 12वीं कक्षा की मार्कशीट- 10वीं और 12वीं कक्षा का माइग्रेशन सर्टिफिकेट- चरित्र प्रमाण-पत्र- गैप ईयर होने पर हलफनामा - प्रोविजनल सर्टिफिकेट (माइग्रेशन सर्टिफिकेट न होने की स्थिति में जरूरी)- आवास का प्रमाण-पत्र (दिल्ली से बाहर के छात्रों के लिए)- जाति प्रमाण-पत्र (केवल आरक्षित वर्ग के लिए)- तीन वर्षीय कोर्स पर सहमति होने का हलफनामा।

दिल्ली विश्वविद्यालय ने तीन वर्षीय कोर्स की पहली कटऑफ सूची सोमवार शाम को जारी कर दी। इसमें हिंदू कॉलेज की कटऑफ सबसे ऊंची गई है। कॉलेज ने बीकॉम की कटऑफ 99.75 तय की है। पिछले साल आरएलए कॉलेज ने कंप्यूटर साइंस की सर्वाधिक 100% कटऑफ तय की थी।

इसके बाद हंसराज कॉलेज ने बीएससी कंप्यूटर साइंस की 99.33 फीसदी कटऑफ तय की है, जबकि बीते साल यह 99 फीसदी थी। हंसराज कॉलेज ने बीकॉम ऑनर्स की कटऑफ 99.25 तय की है। इसके साथ ही श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स ने भी बीकॉम ऑनर्स के लिए 99.25 फीसदी कटऑफ रखी है। बीते साल यह 97 फीसदी थी।

एसआरसीसी में इकोनॉमिक्स ऑनर्स की कटऑफ 98.25% है जो पिछले साल 97.50% थी। खास बात यह है कि हंसराज में विज्ञान के किसी भी कोर्स की कटऑफ 90 से कम नहीं गई है। साइंस में न्यूनतम बीएससी एंथ्रोपोलॉजी की कटऑफ 93 फीसदी गई है। वहीं, रामजस कॉलेज में साइंस में बीएससी गणित व फिजिक्स ऑनर्स की 96.50 फीसदी कटऑफ तय हुई है। इसके अलावा कॉलेज में बीकॉम ऑनर्स की कटऑफ सबसे ऊंची 98.75 फीसदी गई है। इकोनॉमिक्स और इंग्लिश की 97.5 कटऑफ तय हुई है।

जहां सभी कॉलेजों ने बीकॉम के लिए 12वीं में गणित को अनिवार्य किया है, वहीं रामजस ने मैथ ऑनर्स के लिए 12वीं के गणित में न्यूनतम 95 फीसदी अंक होने की शर्त रखी है।

रामजस ने इकोनॉमिक्स ऑनर्स के लिए 12वीं में बिजनेस मैथमेटिक्स में कम से कम 90 फीसदी अंक की शर्त रखी है। इसके अलावा राजनीति जो छात्र राजनीति विज्ञान ऑनर्स करना चाहते हैं और उनके 12वीं के राजनीति विज्ञान विषय में 88 फीसदी या उससे अधिक है तो छात्रों को कटऑफ में दो फीसदी की छूट दी जाएगी। लेकिन जानकारों का कहना है कि 88 फीसदी की शर्त कड़ी है।

उधर, आउट ऑफ कैंपस कॉलेजो में शहीद भगत सिंह कॉलेज ने इकोनॉमिक्स ऑनर्स के लिए गणित को जरूरी बताया है। साथ ही इकोनॉमिक्स के लिए 12वीं में न्यूनतम गणित में 70 फीसदी अंक होने जरूरी है। इसके अलावा कॉलेज ने बीकॉम ऑनर्स के लिए 12वीं के गणित में 50 फीसदी अंक की शर्त रखी है। वहीं, मैथ ऑनर्स के लिए गणित में न्यूनतम 75 फीसदी अंक होने जरूरी है। डीयू के नामी कॉलेज एसआरसीसी ने भी इस तरह के मानक बनाए हैं।

संस्कृत में छात्राओं को दो फीसदी की छूट
रामजस ने संस्कृत ऑनर्स के लिए छात्रओं को कटऑफ में दो फीसदी की छूट देने का ऐलान किया है। कॉलेज के मुताबिक छात्राओं को बेस्ट फोर में दो फीसदी की रियायत मिलेगी। इसके अलावा इसी कॉलेज ने हिन्दी ऑनर्स में भी छात्राओं को दो फीसदी की छूट देने का फैसला किया है। राजनीति विज्ञान ऑनर्स में भी छात्राओं को छूट मिलेगी। एक फीसदी की छूट कटऑफ में दी जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डीयू: पहली कटऑफ 99 फीसदी के पार, आज से दाखिले शुरू