DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भोजन को मोहताज गीता की कांग्रेस ने की आर्थिक सहायता

चाकुलिया संवाददाता। प्रखंड अंतर्गत बेंद में 70 वर्षीया वृद्धा गीता साव सरकारी उदासीनता के कारण दाने-दाने को मोहताज हैं। सोमवार के अंक में ‘हिन्दुस्तान’ में प्रमुखता से खबर छपने के बाद वृद्धा की मदद के लिए लोगों ने हाथ बढ़ाए हैं। सोमवार को कांग्रेस नेता काबू दत्ता बेंद गए।

यहां उन्होंने वृद्धा गीता साव से मुलाकात की और उनको भोजन के लिए एक कुंटल चावल, 15 सौ रुपये तथा कुछ साडिम्यां दी हैं। उन्होंने प्रखंड के नेताओं को निर्देश दिया कि बीडीओ से मुलाकात कर गीता साव को वृद्धा पेंशन दिलाने का प्रयास करें।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि घाटशिला में उपायुक्त की बैठक में वे गीता की बात को प्रमुखता से रखेंगे। साथ ही सरकारी उदासीनता पर सवाल भी खड़े करेंगे। इस मौके पर अभय महंथी, अनिल मिश्रा, रमाकांत शुक्ला, तारकनाथ दत्ता, सपन महतो, अजीत रुहिदास, सिंहराय मुर्मू, कार्तिक सिंह आदि उपस्थित थे।

न मिलती है वृद्धा पेंशन और न विधवा पेंशनदो वर्ष पूर्व गीता के वृद्ध पति प्रेमानंद का निधन भूख से ही हो गया था। इसके बाद भी प्रशासनिक पदाधिकारियों की नींद नहीं खुली। यहां तक की न तो गीता को वृद्धा पेंशन मिली और न ही विधवा पेंशन। इस दौरान दो-दो बार प्रखंड कार्यालय में अधिकार शिविर लगाया गया। वार्ड सदस्या ने तो बताया कि गीता के पेंशन के लिए प्रखंड कार्यालय में आठ बार आवेदन जमा कराया गया, लेकिन अब तक इसमें सफलता नहीं मिली।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भोजन को मोहताज गीता की कांग्रेस ने की आर्थिक सहायता