DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पटना में पीपीपी मोड में लगेंगी हाईमास्ट लाइट

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। पटना नगर निगम पीपीपी मोड में शहर में हाईमास्ट लाइट लगाएगा। सोमवार को विधान परिषद में भाजपा के सत्येन्द्र नारायण सिंह के ध्यानाकर्षण का जवाब देते हुए नगर विकास मंत्री राकेश कुमार उर्फ सम्राट चौधरी ने कहा कि नगर निगम में कर्मियों की कमी है।

तकनीकी हैंड्स की भी भारी कमी है। लिहाजा हाईमास्ट लगाने का काम पीपीपी मोड में ही होगा। इसके लिए निगम ने योजना बना ली है। बहुरेंगे दिन पटना सौंदर्यीकरण कोषांग की योजनाओं और सांसद-विधायक निधि से नगर निगम क्षेत्र में लगायी गई हाईमास्ट लाइटों के दिन बहुरेंगे।

अभी इन लाइटों बल्ब, चॉक, इगनाइटर या केबल खराब होने पर उसे ठीक करने की स्थायी प्रबंध नहीं है। नतीजतन हाईमास्ट लाइटें शोभा की वस्तु बनती गई है। निगम क्षेत्र में कुल 66 जगहों पर हाईमास्ट लाइटें लगायी गयी हैं। बिजली विभाग ने बिजली बिल बकाया रहने के कारण हाईमास्ट लाइटों का कनेक्शन काट दिया। इनमें पटना सिटी अंचल क्षेत्र की 16 लाइटें ढाई वर्ष पहले नगर निगम को हवाले तो कर दिया गया लेकिन उसे चलाने के लिए नीति निर्धारित नहीं की गई।

नतीजतन ज्यादा समय लाइट बंद ही रहती है। हालांकि अब नगर निगम ने हाईमास्ट लाइटों का बकाया बिजली बिल भुगतान करना शुरू कर दिया है। सिटी इलाके में लगायी गई लाइटों का एक करोड़ रुपए से अधिक का बिल भुगतान किया गया है। कुछ जगहों पर लाइट जल भी रही है। लेकिन स्थायी प्रबंध नहीं रहने के कारण समस्या हो रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पटना में पीपीपी मोड में लगेंगी हाईमास्ट लाइट