DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंजीनियरों के विवाद से पुलिस ने पल्ला झाड़ा

इलाहाबाद। वरिष्ठ संवाददाता। दो दिन पहले बेलन नहर प्रखंड के अधिशासी अभियंता और अवर अभियंताओं के बीच विवाद से पुलिस ने पल्ला झाड़ लिया है। बीते शनिवार को दोनों पक्ष ने एक दूसरे पर हमला करने का आरोप लगाते हुए शविकुटी थाने में तहरीर दी थी लेकिन पुलिस ने किसी पक्ष की तरफ से एफआईआर दर्ज नहीं की। उस घटना में प्रखंड के एक्सईएन केदारनाथ पर पिस्टल लहराने और एक जेई को मारने की धमकी देने का आरोप लगा था।

सिंचाई विभाग का जेई संगठन शनिवार रात थाने पहुंचा और एक्सईएन के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस का ढुलमुल रवैया देख जूनियर इंजीनियर रात में ही मंडलायुक्त बादल चटर्जी से मिले और एक्सईएन पर सिंचाई विभाग के कम्युनिटी हाल में जबरन कब्जा करने का आरोप लगाया।

घटना के समय मौके पर थाने की पुलिस पहुंची थी। अवर अभियंताओं के मुताबिक मंडलायुक्त ने मामला जिला प्रशासन के हवाले कर सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता से पूछताछ की। अवर अभियंताओं की तरह अधिशासी अभियंता ने भी आरोप लगाया कि पुलिस उनकी तहरीर पर अवर अभियंताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं कर रही है।

शनिवार के बाद गोविंदपुर स्थित बेलन नहर प्रखंड के अस्थाई कार्यालय में सोमवार को शांति बनी रही पर दोनों पक्ष आगे की कार्रवाई पर अड़े हैं। अधिशासी अभियंता शासनादेश के मुताबिक अवर अभियंताओं को प्रखंड के कार्य क्षेत्र मेजा में काम करने पर जोर दे रहे हैं। दूसरी ओर अवर अभियंताओं ने अब अधिशासी अभियंता को अटैच करने की मांग करने का फैसला किया है। अवर अभियंता इस मांग को लेकर विभाग के मुख्य अभियंता से बातचीत कर चुके हैं। अब मंगलवार को डीएम से गुहार लगाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंजीनियरों के विवाद से पुलिस ने पल्ला झाड़ा