DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वेस्ट यूपी के विधि वैज्ञानिक लखनऊ में सीखेंगे पाठ

बागपत। हमारे संवाददाता। साइबर क्राइम रोकने से लेकर हत्या व अन्य आपराधिक घटनाओं के बाद सबूत एकत्रित की वेस्ट यूपी के विधि वैज्ञानिकों को जल्द ही लखनऊ में विशेष ट्रेनिंग दी जायेगी। इसके अलावा प्रश्न भी पूछे जायेंगे। विधि वैज्ञानिकों ने इसके लिए तैयारी शुरु कर दी है। जिले के किसी भी स्थान पर हत्या, लूट, डकैती से लेकर तमाम तरह की आपराधिक घटनाएं होने के बाद पुलिस के साथ-साथ फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट व विधि वैज्ञानिक भी सबूत जुटाने के लिए पहुंचते है।

घटनास्थल से जो भी जानकारी हासिल होते है, सबूत जुटाए जाते है, उन्हे ंपुलिस को सौंपा जाता है। इससे पुलिस को घटना का खुलासा करने में सहायता मिलती है। विधि विज्ञान प्रयोगशाला के आलाधिकारियों ने वेस्ट यूपी के सभी विधि वैज्ञानिकों के पास पत्र भेजा है। जिसमें बताया गया कि है कि जल्द ही लखनऊ में बागपत, मेरठ, मुजफ्फरनगर,शामली, हापुड़, गाजियाबाद आदि समेत सभी जिले के विधि वैज्ञानिकों को विशेष ट्रेनिंग दी जायेगी। जिसमें सबूत एकत्रित करने से लेकर साइबर क्राइम संबंधित अहम जानकारियां दी जायेगी।

यहीं नहीं विधि वैज्ञानिकों का एक टेस्ट भी लिया जायेगा। जिसमें विभाग से संबंधित प्रश्न पूछे जायेंगे। कमजोर विधि वैज्ञानिकों को विशेष ट्रेनिंग देकर पूरी तरह से ट्रेंड किया जायेगा। विधि वैज्ञानिकों ने इसके लिए तैयारी शुरु कर दी है। बागपत के विधि वैज्ञानिक अमित कुमार के अनुसार ट्रेनिंग की अभी डेट निर्धारित नहीं की गई है। वहां से लौटने के बाद वे जिले के सिपाहियों व अन्य कर्मचारियों को भी ट्रेंड करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वेस्ट यूपी के विधि वैज्ञानिक लखनऊ में सीखेंगे पाठ