DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बम विस्फोट पीड़ितों को राहत व पुनर्वास पैकेज

राजस्थान सरकार ने जयपुर बम विस्फोट के पीड़ितों के लिए राहत एवं पुनर्वास पैकेज घोषित किया है। संसदीय कार्य मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने पत्रकारों को बताया कि मृतकों के आश्रितों, वयस्क बच्चों तथा विधवाआें को आर्थिक सहायता देने के साथ ही बम विस्फोट के पीड़ित परिवार के एक सदस्य को सरकारी या निजी क्षेत्र में नौकरी देने का प्रयास किया जाएगा। राठौड़ ने बताया कि जिस बालक के माता-पिता नहीं रहे, उनके संरक्षक के खाते में चार हजार रुपये प्रतिमाह वयस्क होने तक दिए जाएंगे। यह राशि हर वर्ष पाचं प्रतिशत बढ़ाकर मिलेगी। बालिकाआें को चार हजार रुपये प्रतिमाह के साथ एक मुश्त स्थायी जमा खाते में दो लाख रुपये जमा कराए जाएंगे। मंत्री ने बताया कि विधवा तथा उसके प्रत्येक अवयस्क बच्चे को पन्द्रह सौ रुपये प्रतिमाह दिए जाएंगे। मृतक पर आश्रित माता-पिता को प्रतिमाह दो हजार रुपये भरण पोषण के लिए दिए जाएंगे। समाज कल्याण विभाग के नियमों की पात्रता रखने वाले विकलांग को दो लाख रुपये की एक मुश्त सहायता मिलेगी। राठौड़ ने बताया कि बम विस्फोट पीड़ितों के बच्चों को स्कूली शिक्षा के लिए बारह हजार रुपये प्रति वर्ष और उच्च शिक्षा के लिए 25 हजार रुपये प्रतिवर्ष दिए जाएंगे। व्यावसायिक पाठय़क्रम के लिए बालकों को पचास हजार रुपये की एक मुश्त राशि दी जाएगी। राठौड़ ने बताया कि मृतकों के परिवारों को उद्योग स्थापित करने के लिए पचास हजार रुपये की सहायता दी जाएगी। मृतक के आश्रित माता-पिता को स्वास्थ्य बीमा योजना में शामिल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री सहायता कोष में अब तक दस करोड़ रुपये की राशि बम विस्फोट पीड़ितों के लिए आ चुकी है। उन्होंने बताया कि बम विस्फोट के 65 मृतकों में 58 की पहचान हो चुकी है। चार मृतकों के परिजन आए नहीं तथा दो के परिजनों का विवाद चल रहा है। 52 मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये दिए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि अजमेर दरगाह में बम विस्फोट के मृतकों को भी पाचं पाच लाख रुपये दिए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बम विस्फोट पीड़ितों को राहत व पुनर्वास पैकेज