अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कल्याण विभाग ने दिया अनुदान

जिला कल्याण पदाधिकारी आर विद्याकर ने काली बाबू स्ट्रीट महाबीर चौक अपर बाजार निवासी उमेश राक को बुधवार को 10 हाार रुपये का चेक चिकित्सा अनुदान के रूप में प्रदान किया। उमेश राक किडनी रोग से पीड़ित हैं। 1मई को हिन्दुस्तान में खबर छपने के बाद उपायुक्त के आदेश पर जिला कल्याण पदाधिकारी श्री राक के घर पहुंचे। राक की दो पुत्री खुशबू राक और नेहा राक मैट्रिक की परीक्षा में क्रमश 70 फीसदी व 57 फीसदी अंक के साथ उत्तीर्ण घोषित हुई हैं। गरीबी के कारण आगे की पढ़ाई में असमर्थ हैं। पिता बीमार हैं और मां दूसर के घर में चौका बर्तन कर खर्च का खर्च चलाती है। कल्याण विभाग ने खुशबू राक को बीआइटी पॉलिटेक्िनक में सरकारी खर्च पर पढ़ाने का जिम्मा उठाया है, जबकि दूसरी पुत्री नेहा राक को मारवाड़ी महाविद्यालय में नामांकन कराने का वायदा किया है। नेहा राक की पढ़ाई की सारा खर्च कल्याण विभाग उठायेगा। वहीं दूसरी ओर कई संस्थाओं ने खुशबू और नेहा राक की पढ़ाई का खर्च उठाने का वायदा किया है। इस क्रम में संत गाडगे संस्थान झारखंड प्रदेश के पदधारी रतन राम, केदार प्रसाद और पलटू राम, उपेंद्र राक ने उमेश राक की तीनों पुत्रियों की पढ़ाई का खर्च उठाने की बात कही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कल्याण विभाग ने दिया अनुदान