अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधान भवन पर प्रदर्शन करने जा रहे कांग्रेसी गिरफ्तार

ड्ढr सरकारी एवं गैर सरकारी विभागों में कार्यरत दैनिक वेतन भोगी, अनुसूचित जाति के कर्मियों को नियमित करने, प्राथमिकता से एक लाख सफाई कर्मियों को भर्ती करने समेत 15 सूत्रीय माँगों को लेकर उत्तर प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित अधिकार समिति की ओर से कांग्रेस मुख्यालय में सभा का आयोजन किया गया। सभा के पश्चात माँगों के समर्थन में कार्यकर्ता विधान भवन पर प्रदर्शन करने के लिए जाने लगे। तभी पुलिस ने कार्यकर्ताओं को कांग्रेस मुख्यालय के पास ही रोक दिया। इस दौरान पुलिस की उनकी झड़प भी हुई।ड्ढr कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष डा. रीता बहुगुणा जोशी ने कहाकि बसपा सरकार में दलितों पर अत्याचार बढ़ा है। कांग्रेस इसे बर्दाश्त नहीं करगी। उन्होंने कहा कि दलितों के राहुल गाँधी से बढ़ते प्रेम से बसपा घबरा गई है। श्रीमती जोशी ने कहाकि मुख्यमंत्री मायावती ने एक लाख आठ हाार सफाई कर्मियों की भर्ती करने की घोषणा की थी कि लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ। एक महीने के अंदर कोई कार्रवाई न होने पर विधानभवन का घेराव किया जाएगा। उप्र कांग्रेस अनुसूचित जाति अधिकार प्रकोष्ठ के संयोजक श्याम लाल पुजारी ने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार का बोलबाला है। दलित मुख्यमंत्री के कार्यकाल में दलितों का उत्पीड़न हो रहा है। सभा में हरि वाल्मीकि, डा. एके सिंह, लक्ष्मीनारायण सिंह, रमेश सोनकर, मोहन लाल, शौकीलाल गिहार आदि शामिल रहे। बाबूराम सोनकर, मेवालाल कठेरिया, राम प्रसाद पासी, मनोज वाल्मीकि आदि शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विधान भवन पर प्रदर्शन करने जा रहे कांग्रेसी गिरफ्तार