अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आज बढ़ जाएंगे पेट्रोल के दाम

शुक्रवार को पेट्रोल के दाम बढ़ाने पर फैसला हो सकता है। विश्व बाजार में कच्चे तेल के दाम गुरुवार को 135 डॉलर प्रति बैरल तक चले जाने के बाद सरकार मजबूर है। प्रस्ताव है कि सरकार पेट्रोल का दाम पांच रुपये लिटर बढ़ाये, लेकिन इसकी संभावना कम है कि वह दो या तीन रुपये से अधिक मूल्य बढ़ाएगी। डीाल के दाम बढ़ाने के बार में फैसला फिर टल सकता है। स्वयं प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इसके संकेत दे दिए हैं। सिंह ने गुरुवार को कहा, ‘हम तेल कंपनियों को घाटा उठाने नहीं देंगे।’ड्ढr ड्ढr शुक्रवार को प्रधानमंत्री निवास सात रसकोर्स में कैबिनेट की बैठक होनी है, जिसमें पेट्रोल के दामों में वृद्धि पर फैसला होना तय माना जा रहा है। पहले कहा जा रहा था कि चूंकि अगला साल चुनावी साल है,इसलिए सरकार पेट्रोल के दामों को बढ़ाने से बचेगी। पर विश्व बाजार में कच्चे तेल के दाम जिस तरह से पुराने सभी रिकार्ड तोड़ रहे हैं, उसके चलते अब वह दाम बढ़ाने में और देरी नहीं कर सकती।ड्ढr ड्ढr सूत्रों ने बताया कि कैबिनेट बैठक से ठीक पहले पेट्रोलियम सचिव एम. श्रीनिवासन पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा की उपस्थिति में तीनों सरकारी तेल कंपनियों को हो रहे तगड़े नुकसान की विस्तार से जानकारी वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम और विदेश मंत्री प्रणव कुमार मुखर्जी को देंगे। आईओसी, एचपीसीएल तथा बीपीसीएल को हर रो करीब 450 करोड़ का नुकसान हो रहा है। इन कंपनियों को प्रति लीटर पेट्रोल पर 10.78 रुपये, डीाल पर 17.02, केरोसिन पर 25.23 और हर एलपीजी सिलेंडर पर 316.06 रुपये का नुकसान है। पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा ने कहा कि सरकार तेल कंपनियों को नुकसान से उबारने पर सभी कोणों से विचार कर रही है।इस तरफ तुरंत कदम उठाने की जरूरत है। वहीं बीपीसीएल के अध्यक्ष अशोक सिन्हा ने इन खबरों को बेबुनियाद बताया कि तेल कंपनियों ने एलपीजी सिलेंडरों की राशनिंग चालू कर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आज बढ़ जाएंगे पेट्रोल के दाम