अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सल्वा-जुड़ूम शिविर पर सीआरपीएफ की फायिरग

बस्तर इलाक क बीजापुर जिल क चरपाल स्थित सल्वा-जुड़ूम शिविर मं गुरूवार की दर रात सीआरपीएफ क जवानां न अंधाधुंध गालियां बरसा दीं, जिसमं एक महिला समत एक तीन वर्षीय बच्च की मौत हा गई, वहीं दा लाग घायल हा गए। पुलिस न गाली चलान वाल 180 बटालियन क जवान तिरुपति राव क खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है। बीजापुर कलक्टर न घटना की दंडाधिकारी जांच क आदश द दिए हैं। शिविरार्थियां का आराप है कि महिलाआं स छड़छाड़ का विराध करन पर नश मं धुत जवानां न गालियां चला दी। घटना क बाद कैम्प पहुंच कलक्टर और एसपी क सामन लागां का गुस्सा फट पड़ा। शिविर क लागां न पुलिस का बताया कि जवानां न उन्हं रात दा बज नींद स उठाकर कहा कि सुरक्षा क संबंध मं पुलिस कैम्प मं एक बैठक लनी है। जवानां का फारमान मानकर चार हजार शिविरार्थी पुलिस कैम्प पहुंच, ता वहां महिलाआं और पुरूषां का अलग-अलग लाईन मं बिठा कर कहा गया कि तुम लाग नक्सलियां की मदद करत हा। तुम लागां का अब काई नहीं बचाएगा। इसक बाद शिविरार्थियां पर फायरिंग कर दी। गाली लगन स श्याम बाई 22 वर्ष और राजू 3 वर्ष की मौक पर ही दम ताड़ दिया।ड्ढr सल्वा-जुडूम कार्यकर्ताआं न पुलिस का बताया कि हमार सात साथियां का सीआरपीएफ न नक्सलियां की वर्दी पहनाकर बंधक बना कर रखा है। आशंका है कि उन्हं ही गालीबारी का जिम्मदार ठहरा दिया जाएगा। इस आराप क बाद सीआरपीएफ न सात लागां का रिहा कर दिया।ड्ढr उधर, पुलिस न घटना की लीपापाती शुरू कर दी है। बीजापुर क एसपी अंकित गर्ग न बताया कि जवानां का खबर मिली थी कि रात मं कुछ नक्सली कैम्प मं घुस आए हैं। जवान कैम्प की तलाशी ल रह थ, तभी कुछ लागां न भागन की काशिश की। जिस पर जवानां न गालियां चला दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सल्वा-जुड़ूम शिविर पर सीआरपीएफ फायिरग