अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गैर निबंधित अल्ट्रासाउंड क्लीनिकों परच होगी कार्रवाई

न्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए पीसीपीएनडीटी एक्ट पर उच्चस्तरीय बैठक शनिवार को स्वास्थ्य मंत्री भानू प्रताप शाही की अध्यक्षता में हुई। इसमें मंत्री ने राज्य के सभी सिविल सर्जनों को निर्देश दिया कि बिना निबंधन के चल रहे अल्ट्रासाउंड क्लीनिकों पर कार्रवाई की जाये और मशीनों के दुरुपयोग पर रोक लगायी जाये।ड्ढr बैठक में बताया गया कि राज्य में 438 अल्ट्रासाउंड मशीनें निबंधित हैं। मंत्री ने इस बात पर नाराजगी जतायी कि धनबाद और रांची में अल्ट्रसाउंड मशीनों के दुरुपयोग की शिकायत मिलने पर भी सिविल सर्जनों ने संबंधित संचालकों पर कानूनी कार्रवाई नहीं की। मंत्री ने दोनों जिलों के सिविल सर्जनों से स्पष्टीकरण पूछने का निर्देश दिया। सभी जिलों में टास्क फोर्स गठित कर बिना निबंधन के चल रहे क्लीनिकों पर कार्रवाई का भी निर्देश दिया।ड्ढr बेटी बचाओ अभियान को सफल बनाने के लिए जिला स्तर पर होर्डिंग्स लगाने और नुक्कड़सभा, नाटक आदि करने की बात कही गयी। पीसीपीएनडीटी एक्ट के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए प्राधिकार, परामर्शदातृ समिति और राज्य अनुश्रवण समिति के गठन का निर्देश दिया। बैठक में महिला आयोग की अध्यक्ष लक्ष्मी सिंह, पूर्व मंत्री डॉ दिनेश षाड़ंगी, स्वास्थ्य सचिव सियाराम प्रसाद सिन्हा, आयुक्त निधि खर, रणु तिवारी, डॉ विजय नारायण सिंह, डॉ विजय चौधरी आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गैर निबंधित अल्ट्रासाउंड क्लीनिकों परच होगी कार्रवाई