DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

द्वितीय विश्वयुद्ध के सैनिकों को अब ढाई हचाार पेंशन

झारखंड राज्य रिटायर सैनिकों के कल्याण के लिए गठित उच्चस्तरीय कमेटी की बैठक राज्यपाल सैयद सिब्ते राी की अध्यक्षता में हुई। इसमें द्वितीय विश्वयुद्ध के सैनिकों की वित्तीय सहायता एक हाार से बढ़ाकर दो हाार की गयी। केंद्र सरकार इन सैनिकों को 500 रुपये अलग से देती है। इस प्रकार अब प्रतिमाह इन सैनिकों को ढाई हाार रुपये मिलेंगे। राज्य में ऐसे सैनिकों की संख्या 46 है।ड्ढr तय हुआ कि आकस्मिक दुर्घटना एवं निधन पर इन्हें एकमुश्त 30 हाार रुपये की सहायता दी जायेगी। स्थायी अपंगता की स्थिति में 15 हाार रुपये मिलेंगे। सरकारी सेवा में कार्यरत रिटायर सैनिकों को भी पेंशन-वेतन की सुविधा देय होगी।ड्ढr राज्यपाल के प्रधान सचिव अमित खर ने बताया कि राजभवन में कार्यरत पूर्व सैनिकों को यह सुविधा मिल रही है। दुमका-चाईबासा सैनिक कल्याण कार्यालय के लिए एक जिप्सी खरीदी जायेगी। राज्यपाल ने कहा कि बोर्ड स्वयं के प्रयास से राजस्व वृद्धि के लिए कदम उठाये। कार्यालय में पदाधिकारी की नियुक्ति करने की बात भी कही। ब्रिगेडियर बाली ने बोर्ड द्वारा किये गये कार्यो पर प्रकाश डाला। बताया कि बोर्ड ने पेंशन अदालत लगा कर 600 से अधिक मामले निबटाये गये। इसमें वित्त आयुक्त राजबाला वर्मा, मेजर जेनरल एके सिंह, एसजी चटर्ाी, ब्रिगेडियर ए राउत, केके धींगरा, एलसी एपी सिंह, संयुक्त सचिव पीके शर्मा, वीके मिश्र आदि उपस्थित थे। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: द्वितीय विश्वयुद्ध के सैनिकों को अब ढाई हचाार पेंशन