DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डिजाइनिंग में क्रिएटिविटी है जरूरी

डिजाइनिंग में क्रिएटिविटी है जरूरी

क्या आप मुझे एग्रीकल्चरल इकोनॉमिस्ट के काम के बारे में जानकारी दे सकते हैं? इस फील्ड में करियर के तौर पर क्या-क्या संभावनाएं हैं?
विशाल कुमार

हमारी कृषि नीति का मुख्य उद्देश्य यही है कि देश में हर जन को अन्न मिल सके और इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए हमें न सिर्फ कृषि वैज्ञानिकों की जरूरत है, बल्कि बड़ी संख्या में कृषि अर्थशास्त्रियों की भी आवश्यकता है, जो अर्थशास्त्र के सिद्धांतों पर काम करके हमारे कृषि सेक्टर को और उन्नत बना सकते हैं। उदारीकरण और पूंजी निवेश के इस दौर में जहां इस सेक्टर में काफी विकास हो रहा है, वहां एग्रीकल्चरल इकोनॉमिस्ट्स की जरूरत भी खूब है। वह लैंड अप्रेजल, फसलों की ग्रेडिंग, मार्केटिंग और सेल्स के साथ-साथ एक एग्रीकल्चरल इकोनॉमिस्ट फार्म मैनेजमेंट, को-ऑपरेटिव मैनेजमेंट, फार्म यूटिलिटीज, कस्टमर सर्विस, होलसेल-रिटेल मार्केटिंग, रिसर्च, पूंजी निवेश के संसाधन आदि के काम भी संभालता है।

इस क्षेत्र में रोजगार के अच्छे विकल्प मौजूद हैं। को-ऑपरेटिव सेक्टर, बैंकिंग और इंश्योरेंस सेक्टर के अलावा कृषि सेक्टर से संबंधित प्राइवेट फर्म्स, विदेशी दूतावास, एनजीओ, कृषि मंत्रालय, इंडियन इकोनॉमिक सर्विस के अलावा रिसर्च और शिक्षण के क्षेत्र में भी रोजगार की प्रबल संभावनाएं हैं। वैसे आप इकोनॉमिक्स में एमए के साथ-साथ एग्रीकल्चरल इकोनॉमिक्स में स्पेशलाइजेशन भी कर सकते हैं। कई संस्थानों द्वारा एग्रो-इकोनॉमिक्स में एमएससी कोर्स भी कराया जाता है।

मैंने इसी साल अपनी बीएससी पूरी की है। मैं आगे पढ़ाई करने की बजाए डिजाइनिंग की फील्ड में करियर बनाना चाहता हूं। क्या मेरा यह निर्णय सही है और मैं यह कैसे तय करूं? कृपया मेरा मार्गदर्शन कीजिए।
एक पाठक

फैशन डिजाइनिंग आजकल एक बढिया करियर विकल्प के तौर पर उभरा है, लेकिन जिस तरह का ग्लैमर या पैसा हम फिल्मों या पत्रिकाओं के माध्यम से इस इंडस्ट्री में देखते हैं, वे चुनिंदा डिजाइनर्स को ही मिलता है। वैसे डिजाइनिंग की किसी भी फील्ड में करियर बनाने के लिए जरूरी है कि आप में इसकी बेसिक समझ और स्किल हो। आपके अंदर क्रियेटिविटी और विजुअल एबिलिटी भी काफी अच्छी होनी चाहिए। साथ ही रंगों को समझने, उनका प्रयोग करने और ड्राइंग में भी आपको महारत हासिल होनी चाहिए। अगर आप में यह टैलेंट है तो आप फैशन इंडस्ट्री के अलावा टेक्सटाइल डिजाइनिंग, निटवियर डिजाइनिंग, एक्सेसरीज और ज्वेलरी डिजाइनिंग तथा फुटवियर डिजाइनिंग के क्षेत्र में भी काम कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप विजुअल मर्चेडाइजिंग, ग्राफिक डिजाइनिंग, प्रोडक्ट डिजाइनिंग या आर्किटेक्चर या इंटीरियर डिजाइनिंग के क्षेत्र में भी हाथ आजमा सकते हैं, लेकिन अगर आपको लगता है कि आपकी क्रियेटिविटी इस मानक की नहीं है, पर आप इसी फील्ड में करियर चाहते हैं तो आप फैशन मर्चेडाइजिंग, फैशन स्टाइलिंग, फैशन मैनेजमेंट या फैशन कम्युनिकेशन के क्षेत्र से जुड़ सकते हैं। अगर आप इस क्षेत्र से जुडम कोई दीर्घ अवधि वाला कोर्स नहीं करना चाहते तो इस फील्ड से संबंधित किसी स्ट्रीम में शॉर्ट टर्म डिप्लोमा भी कर सकते हैं। इससे आपके इस फील्ड का सच भी पता चल सकेगा।

हमारा पता
आप छात्र हैं या करियर को लेकर परेशान हैं तो अपने सवाल हमें भेज सकते हैं। हमारे काउंसलर उनका जवाब देंगे। यही नहीं, यदि आपके पास भी किसी सवाल का जवाब हो तो उसे पोस्ट कर सकते हैं। हमारा पता है -सलाह, नई दिशाएं, हिन्दुस्तान, 18-20 कस्तूरबा गांधी मार्ग, नई दिल्ली

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डिजाइनिंग में क्रिएटिविटी है जरूरी