DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

थाईलैंड का दल गया पहुंचा

रॉयल थाईलैंड के कमांडेंट एयर चीफ चलित पुकवाल असवरे ने सपत्नी तीस सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ शनिवार को महाबोधि मंदिर में पूजा-अर्चना की। आगत दल में थाईलैंड के अन्य वायु सेना अधिकारी शामिल थे। थाई सरकार के विशेष विमान से आया यह दल दिल्ली से गया अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा पहुंचा।ड्ढr ड्ढr छह बीडीओ से जवाब तलबड्ढr खगड़िया (नि.सं.)। जिलाधिकारी ने फोटोयुक्त मतदातासूची की चेकलिस्ट तैयार करने में लापरवाही बरतने वाले छह प्रखंड विकास अधिकारियों से जवाब तलब किया है, वहीं सात बीएलओ पर निलम्बन की कार्रवाही शुरू की है। जिला उपनिर्वाचन अधिकारी राम बाबू दास ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 22 जून 08 को फोटोयुक्त मतदाता सूची के प्रारूप का प्राकशन किया जाना है। राज्य सरकार के निर्देशानुसार फोटो युक्त निर्वाचन सूची तैयार करने के लिए सभी मतदान केन्द्रों पर बीएल ओ. की प्रतिनियुक्ति की गयी है। फोटोयुक्त मतदाता सूची तैयार करने की प्रक्रिया की निगरानी के लिए भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरीय अधिकारी प्रत्यय अमृत को प्रेक्षक के रूप में प्रतिनियुक्त किया गया है। श्री अमृत चार दफा खगड़िया का दौरा कर फोटोयुक्त मतदाता सूची के चेक लिस्ट निर्माण के प्रगति की समीक्षा की है।ड्ढr ड्ढr सेनारी जाकर एसपी ने की जांचड्ढr जहानाबाद अरवल (हि.टी)। अरवल जिले के सेनारी गांव की महिलाओं के साथ पुलिस र्दुव्‍यवहार के मामले की शनिवार को एसपी गोपाल सिंह भदौरिया ने गांव में जाकर जांच की। उनके साथ एसडीओ भी थे। मगध रां के डीआईाी प्रवीण वशिष्ठ ने कहा है कि घटना की जांच रिपोर्ट मिलने के बाद यदि पुलिस अधिकारी व कर्मी दोषी पाए गए तो उनके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करंगे। उधर जहानाबाद के सीजेएम ने गुरूवार को पुलिस ज्यादती की शिकायत के मामले को जांच के लिए प्रथम श्रेणी न्यायिक दण्डाधिकारी वेद प्रकाश सिंह के कोर्ट में भेजने का आदेश दिया। सीजेएम ने इसके पूर्व शिकायतकर्ता शारदा देवी का बयान लिया। एसपी भदौरिया ने बताया कि वे अपनी रिपोर्ट वरीय अधिकारी को देंगे। वंशी ओपी के प्रभारी पुलिस बल के साथ सेनारी में मियापुर नरसंहार के अभियुक्त को पकड़ने गए थे।ड्ढr ड्ढr बदमाशों के डर से मुखिया ने गांव छोड़ाड्ढr छौड़ाही (बेगूसराय) (ए.सं.)। प्रखंड की सिहमा पंचायत की मुखिया राजकुमारी देवी ने अपराधियों की धमकी के बाद सपरिवार गांव छोड़ दिया है। बताया जाता है कि अपराधियों ने उन्हें जान मारने की धमकी दी है। इससे डरकर अपने शिक्षक पति रामविनोद राक व परिवार के अन्य सदस्यों के साथ वे गांव से पलायन कर गयी हैं। मुखिया के पति रामविनोद राक ने दूरभाष पर बताया कि 22 मई की शाम आधा दर्जन अपराधियों ने उनके घर पर पहुंचकर सपरिवार सफाया कर देने की धमकी दी। इससे डर के वे सपरिवार गांव से बाहर शरण लिए हुए हैं। उन्होंने बताया कि खोदावन्दपुर थाना को जब दूरभाष पर इस बात की सूचना दी गयी तो थानाध्यक्ष ने तत्काल सुरक्षित जगह पर रहने की सलाह दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक नजर