DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शेयर बाजारों को लगातार तीसरे दिन जोरदार गिरावट

धातु, बैंकिंग, कैपीटल गुड्स और रियलटी क्षेत्र के शेयरों में भारी बिकवाली का दबाव रहने तथा एशियाई बाजारों की मंदी के समाचारों के बीच सोमवार को देश के शेयर बाजार लगातार तीसरे कारोबारी दिवस में भारी मंदे की गिरफ्त में रहे। बम्बई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स 301 अंक तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 72 अंक और टूट गए। अमेरिका के शेयर बाजारों में शुक्रवार की गिरावट को देखते हुए मंदे की आशंका पहले ही बनी हुई थी। कच्चे तेल की कीमतों में फिर से तेजी का रुख है और सोमवार को यह 133 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर बोली जा रही है। उधर चालू माह के लिए गुरुवार को वायदा एवं विकल्प कारोबार का अंतिम दिन भी है, जिसे देखते हुए सौदों को पूरा करने के लिए ही लिवाली की उम्मीद की जा रही है। एशियाई शेयर बाजारों की गिरावट के बीच खुले देश के शेयर बाजार सत्र के शुरुआत से ही मंदे की गिरफ्त में रहे और इसमें बहुत अधिक बदलाव नहीं देखा गया। सत्र के शुरू में बीएसई का सेंसेक्स शुक्रवार के 1664अंक की तुलना में करीब 180 अंक नीचा 16468.32 अंक पर खुला और इसकी तुलना में 30 अंक ऊपर 164अंक तक जाने के बाद निरंतर मंदे की गिरफ्त में दिखा। सत्र में 16300.88 अंक तक लुढ़कने के बाद समाप्ति पर इसके मुकाबले कुछ सुधरा और कुल 301.14 अंक अर्थात 1.81 प्रतिशत के नुकसान से 16348.50 अंक पर बंद हुआ। बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप को क्रमश: 176.34 तथा 1अंक का जोरदार झटका लगा। धातु वर्ग का सूचकांक 452.5अंक, कैपीटल गुड्स का 358.74, बैंकेक्स 2तथा रियलिटी 170.05 अंक टूटे। आई वर्ग के सूचकांक में रुपये को देखते हुए 77.02 अंक की बढ़त रही। एनएसई का निफ्टी 71.50 अंक अर्थात 1.45 प्रतिशत के नुकसान से 4875.05 अंक रह गया। सत्र की शुरुआत में यह शुक्रवार के 4अंक की तुलना में 40 अंक पर खुला और इससे ऊपर नहीं बढ़ सका। कारोबार में यह नीचे में 4858 अंक तक गिरा। एनएसई के निफ्टी मिडकैप और जूनियर में क्रमश: 2.66 तथा 3.47 प्रतिशत की गिरावट आई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शेयर बाजारों को लगातार तीसरे दिन जोरदार गिरावट