DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अरुण सरीन छोड़ेंगे वोडाफोन के सीईआे का पद

दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल सेवा कंपनी वोडाफोन के भारतीय मूल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) ने मंगलवार को अचानक अपना पद छोड़ने की घोषणा करके व्यापार जगत को स्तब्ध कर दिया। वह जुलाई में अपने पद से त्याग पत्र दे देंगे। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) खड़गपुर से अपनी शिक्षा प्राप्त करने वाले सरीन पांच वर्षो तक इस पद पर रहे और इस दौरान कंपनी ने एस्सार-हच के अधिग्रहण समेत कई उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल कीं। सरीन ने मंगलवार को एक संक्षिप्त वक्तव्य में कहा, ‘‘लगता है मैंने अपने लिए जो लक्ष्य तय किए थे उन्हें हासिल कर लिया है। मुझे खुशी है कि वोडाफोन और उसके 71 हजार कर्मचारी हमारी उपलब्धियों पर गर्व अनुभव करते होंगे।’’ कंपनी ने बताया कि 53 वर्षीय सरीन जुलाई में अपना पद छोड़ेंगे उसके बाद वोडाफोन के उप मुख्य कार्यकारी विट्टोरियो कोलाओ उनका स्थान लेंगे। वोडाफोन के मालिक सर जॉन बांड ने कहा, ‘‘तेजी से परिवर्तन के समय में उन्होंने कंपनी का शानदार नेतृत्व किया। उन्होंने नई नीतियां बनाईं और उनका सफल क्रियान्वयन किया।’’ गौरतलब है कि सरीन के कार्यकाल में वोडाफोन के कुल ग्राहकों की संख्या 12 करोड़ से बढ़कर 26 करोड़ हो गई।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अरुण सरीन छोड़ेंगे वोडाफोन के सीईआे का पद