अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शेयर बाजारों में लगातार चौथे दिन भी गिरावट

यूरोप और एशिया के शेयर बाजारों में सुधार के रुख के बावजूद आयल एंड गैस, रियलटी, बैंकेक्स तथा धातु कंपनियों के शेयरों में बिकवाली का दबाव रहने से देश के शेयर बाजार लगातार चौथे कारोबारी दिवस में मंदे की गिरफ्त में रहे। बीएसई का सेंसेक्स 73 अंक तथा एनएसई का निफ्टी 15 अंक और नीचे आए। कारोबारियों का कहना है कि विदेशी निवेशक बिकवाली पर हैं। गुरुवार को चालू माह के लिए वायदा एवं विकल्प कारोबार का निपटान होना है, जिसे देखते हुए कारोबारियों के सौदे पूरा करने पर अधिक ध्यान है। हालांकि एशियाई और यूरोप के शेयर बाजारों को देखते हुए सत्र की शुरुआत में बाजार कुछ अच्छा नजर आ रहा था, किंतु बाद में बिकवाली के दबाव से उबर नहीं पाया। एशिया के शेयर बाजारों में जापान का निक्केई डेढ़ प्रतिशत ऊपर रहा। हांगकांग के हैंगसैंग में 0.6 प्रतिशत का नुकसान हुआ। आस्ट्रेलिया का शेयर बाजार ऊपर था। बीएसई का सेंसेक्स सत्र के शुरू में कल के 16348.50 अंक की तुलना में 100 से अधिक अंक ऊपर 16454.75 अंक पर मजबूत खुला और समर्थन पाकर ऊंचे में 16506.35 अंक तक गया। इसके बाद बिकवाली के दबाव से इसकी तुलना में करीब 270 अंक नीचे आकर समाप्ति पर कुल 72.अंक अर्थात 0.45 प्रतिशत नुकसान से 16275.5अंक पर बंद हुआ। बीएसई के मिडकैप और स्मालकैप में क्रमश: 81.86 तथा 108.12 अंक निकल गए। आयल एंड गैस 112.75 अंक, रियलटी 113.बैंकेक्स 184.61 और धातु 72.44 अंक टूट गया। आईटी, एफएमसजी और आटो में हल्का सुधार दिखा। एनएसई का निफ्टी 15.25 अंक अर्थात 0.31 प्रतिशत गिरावट से 4850 अंक पर बंद हुआ। एनएसई का मिडकैप 1.18 प्रतिशत और जूनियन 1.61 अंक नीचे रहे।ड्ढr बीएसई के मिडकैप और स्मालकैप में तीव्र गिरावट को देखते हुए रुख नकारात्मक रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शेयर बाजारों में लगातार चौथे दिन भी गिरावट