अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नरगा की योजनाओं की जिम्मेदारी जिप की

नरगा की जिलास्तरीय योजनाओं के अनुमोदन, निगरानी और मार्गदर्शन की जिम्मेदारी जिला परिषद की होगी। साथ ही राज्य सरकार ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि नरगा के अधिनियम और मार्गदर्शिका के तहत जिला परिषद द्वारा योजनावार राशि के कर्णाकन का प्रावधान नहीं है। ग्रामीण विकास विभाग ने इस बाबत सभी उप विकास आयुक्तों को पत्र भी लिखा है।ड्ढr विभाग ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि जिला परिषद को उन कार्यो में से कुछ कार्यो को सौंपा जा सकता है जिन्हें ग्राम पंचायतें कार्यान्वित नहीं कर सकती हैं। विभाग ने उप विकास आयुक्तों को कहा है कि किसी वित्तीय वर्ष के तैयार की गई वार्षिक योजना से प्राथमिकता के आधार पर योजनाओं का कार्यान्वयन किया जाना है। हालांकि इसके पहले तकनीकी पदाधिकारी द्वारा स्थल निरीक्षण कर योजना का प्राक्कलन तैयार किया जाएगा और तकनीकी और प्रशासनिक स्वीकृति ली जाएगी।ड्ढr ड्ढr प्रखण्ड स्तर पर योजनाओं के कार्यान्वयन का दायित्व कार्यक्रम पदाधिकारी तथा जिला स्तर पर कार्यक्रम समन्वयक का होगा। यह भी स्पष्ट किया गया है कि नरगा के तहत विभिन्न स्तरों पर किस तरह की योजनाएं ली जाएंगी। जिला परिषद के स्तर पर वैसी योजनाएं ही ली जा सकती हैं जो एक से अधिक प्रखण्ड को जोड़ती हैं या फिर एक प्रखण्ड की पंचायत से दूसर प्रखण्ड की पंचायत को जोड़ती हैं या एक जिला को जोड़ती हैं।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नरगा की योजनाओं की जिम्मेदारी जिप की