DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लाठीचार्ज के खिलाफ छात्रों ने विश्वविद्यालय में किया हंगामा

दीक्षांत समारोह के दौरान छात्रों पर हुए लाठीचार्ज से नाराज छात्र समागम के सदस्यों ने गुरुवार को विश्वविद्यालय में जमकर हंगामा किया। सदस्यों ने विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन के गेट पर नंग-धडंग होकर प्रदर्शन किया और विवि प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। यही नहीं गुस्साए छात्र डीन और रजिस्ट्रार सहित अधिकारियों के कक्ष में भी घुसकर हंगामा किया। इस दौरान समझाने का प्रयास कर रहे डीन व रजिस्ट्रार से छात्र उलझ भी गए। इसके बाद छात्र कुलपति और प्रतिकुलपति के चैम्बर में घुसने का भी प्रयास किया, पर गेट बंद होने के कारण अंदर नहीं जा सके। इससे आक्रोश्ति छात्र कुलपति और प्रतिकुलपति के चैम्बर के गेट पर बैठ गए और नारेबाजी करते हुए गेट पीटने लगे। इस बीच छात्र समागम के सदस्यों और पुलिस के बीच नोकझोंक हुई। गुस्साए छात्र दीक्षांत समारोह के दौरान छात्र नेताओं पर लाठीचार्ज करने वाले पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने, छात्र नेताओं पर दर्ज मुकदमे को वापस करने और माफी मांगने की मांग कर रहे थे। प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे छात्र समागम के अध्यक्ष कुमुद पटेल ने कहा कि दीक्षांत समारोह में विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्र नेताओं पर लाठियां भंजवाकर विश्वविद्यालय प्रशासन अपनी हद पार कर चुका है। विश्वविद्यालय में व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। छात्रों को परेशान किया जा रहा है। प्रदेश महासचिव राकेश सिंह ने कहा कि शिक्षा के मंदिर में बार-बार पुलिस को बुलाना विश्वविद्यालय के तानाशही रवैये को प्रमाणित करता है। जिला संयोजक प्रिंस सिंह बजरंगी, बौद्धिक प्रमुख उमेश सिंह और ने कुलपति से माफी मांगने और दीक्षांत समारोह के आयोजन के औचित्य पर सवाल उठाते हुए खर्च की गई राशि का ब्योरा देने की मांग की। प्रदर्शन के दौरान दीपक युवराज, देव शर्मा, उमेश सिंह, रमेश पाण्डेय, राहुल कुमार, अभिषेक सिंह, कुंदन कुमार, रंजीत मौर्या, धीरज और अजय कुमार सहित अन्य सदस्य शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लाठीचार्ज के खिलाफ छात्रों ने विश्वविद्यालय में किया हंगामा