DA Image
19 जनवरी, 2020|10:31|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कलमबंद हड़ताल पररहे कांट्रैक्ट डॉक्टर

सरकार की वादाखिलाफी के विरोध में कांट्रैक्ट डॉक्टर 28 मई को कलमबंद हड़ताल पर रहे। झासा एवं आइएमए के संयुक्त तत्वावधान में बुधवार को दो घंटे (10 से 12 बजे तक) का सांकेतिक हड़ताल किया गया। इस दौरान राज्यभर के सरकारी और गैर सरकारी डॉक्टरों ने कोई काम नहीं किया। मेडिकल कॉलेज और इमरोंसी सेवा को हड़ताल से अलग रखा गया है। बुधवार को दिन के एक बजे आइएमए सभागार में डॉक्टरों की बैठक डॉ शोभा चक्रवर्ती, डॉ आरसी झा एवं डॉ प्रभात कुमार की अध्यक्षता में हुई। इसमें 31 मई से होनेवाली बेमियादी हड़ताल को लेकर रणनीति बनी। इसमें हड़ताल को और तेज करने का निर्णय लिया गया। राज्य के सभी डॉक्टरों से हड़ताल को सफल बनाने की अपील की गयी है। चिकित्सकों ने निर्णय लिया कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होती, हड़ताल जारी रहेगी। कांट्रैक्ट डॉक्टरों के अध्यक्ष डॉ विमलेश सिंह, स्टीफन हांसदा, किरण चंद्र, पूनम कुमारी, राजीव रांन पाठक आदि बैठक में शामिल थे। गुरुवार को रात आठ बजे आइएमए सभागर में कांट्रैक्ट डॉक्टरों की बैठक होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: कलमबंद हड़ताल पररहे कांट्रैक्ट डॉक्टर