DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग विदेश के भांजे की हत्याँ

राजद विधायक विदेश सिंह के भांजे पप्पू सिंह उर्फ राजेश सिंह (38 वर्ष) को अपराधियों ने गोलियों से भून डाला। यह घटना बुधवार की सुबह पौने आठ बजे की है। उस वक्त पप्पू सिंह प्रइवेट बस स्टैंड के समीप एक सैलून के बाहर कुर्सी लगाकर अखबार पढ़ रहे थे। उनके साथ तीन-चार अन्य लोग बैठे थे। उसी क्रम में तीन अपराधी आये और नाइन एमएम के पिस्टल से कनपटी में सटाकर तीन गोली दाग दी। उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गयी। हत्यार की पहचान नहीं हो सकी है। 15 वर्ष से था बस एजेंट : पप्पू सिंह पांकी थाना के पगार गांव का रहनेवाले थे। वर्तमान में वे नई मुहल्ला में रह रहे थे। करीब 15 वर्ष से वे बस एजेंट का काम कर रहे थे। डीआइजी डा. नंदू प्रसाद व एसपी दीपक वर्मा ने कहा है कि हत्या के पीछे क्या कारण है और हत्या में कौन-कौन शामिल हैं, यह स्पष्ट नहीं हो सका है। विदेश सिंह ने बताया कि पप्पू निहायत सीधा-साधा युवक था। किसी से भी उसकी लड़ाई नहीं थी। एसपी ने यह भी बताया कि गोली मारने के बाद अपराधी पल्सर मोटरसाइकिल से भागे हैं। विदेश इस घटना से मर्माहत हैं। थोड़ी देर के लिए वे बेहो श भी हो गये थे। राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य मंजु एस.हेम्ब्रम ने कहा है कि आयोग में प्रतिदिन महिला अत्याचार के सात मामले दर्ज होते है। इनमें से अधिकांश शोषित महिलाएं झारखंड की होती है। ये बातें उन्होंने बुधवार को दुमका स्थित अग्रसेन भवन में एटसेक झारखंड चैप्टर रांची और मानवी के संयुक्त तत्वावधान में महिला हिंसा पर आयोजित प्रमंडल स्तरीय जन सुनवाई के दौरान कहीं। छह महीने के भीतर अधिकांश संथाल परगना की ही हैं। झारखंड में अत्याचार के मामले के लिए पुलिस की लापरवाही और पलायन जैसे मुद्दे को जिम्मेवार ठहाराया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग विदेश के भांजे की हत्याँ