DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैजिक वाउचर योजना फेल: डा. फणिकांत मिश्रा

बिहार, झारखंड व पूर्वी उत्तर प्रदेश पुरातत्व विभाग के अधीक्षण पुरातत्वविद डा. फणिकांत मिश्रा का कहना है कि बीएसएनएल की मैजिक वाउचर योजना पूरी तरह फेल है। यह स्कीम उपभोक्ताओं के साथ सिर्फ छलावा है। बीएसएनएल शुरू में जब इस स्कीम को लाया था तो काफी आकर्षक था। इसलिए उपभोक्ताओं ने इसे सहज रूप से अपनाया था। इस स्कीम में बीएसएनएल से बीएसएनएल फोन करने पर 25 पैसे प्रति कॉल लगता है और रात 11 बजे से सुबह सात बजे तक बीएसएनएल से बीएसएनएल मुफ्त बातचीत है। लेकिन रात ग्यारह बजे के बाद भी यह योजना शुरू नहीं हो पाती है और साढ़े ग्यारह बजे तक भी उपभोक्ताओं के पैसे कटते रहते हैं। साढ़े ग्यारह बजे के बाद ही बीएसएनएल से बीएसएनएल मुफ्त बातचीत हो पाती है।ड्ढr ड्ढr आखिर इसकी असली बजह क्या है? जब रात 11 बजे से इस स्कीम में मुफ्त बातचीत है तो फिर साढ़े ग्यारह बजे तक उपभोक्ताओं के पैसे कैसे कटते हैं? क्या बीएसएनएल के पदाधिकारी व कर्मचारी इसका कोई सटीक जवाब दे पाएंगे। आखिर कब तक उपभोक्ताओं को बेवकूफ बनाया जाएगा? बीएसएनएल पदाधिकारियों से इसकी शिकायत कई बार की गई है लेकिन सिर्फ एक ही रटा रटाया जवाब मिलता है कि कोलकाता के सिस्टम में गड़बड़ी है इसे शीघ्र दूर कर दिया जाएगा? लेकिन दो -तीन माह के बाद भी यह समस्या उपभोक्ताओं के सामने ज्यों की त्यों पड़ी है? कोलकाता के सिस्टम में क्या गड़बड़ी है इसे तो बीएसएनएल के पदाधिकारियों व कर्मचारियों को देखना चाहिए उपभोक्ताओं को तो सिर्फ बेहतर सेवा ही चाहिए। आखिर क्या कारण है कि उपभोक्ताओं के द्वारा बार-बार शिकायत दर्ज करने के बाद भी मैजिक वाउचर स्कीम में कोई सुधार नहीं हो रहा है? इसमें तो सड़क खुदाई का बहाना नहीं होना चाहिए? स्पष्ट है कि बीएसएनएल के पदाधिकारी किसी भी स्कीम को सही ढंग से चलने देना नहीं चाहते हैं जबकि निजी मोबाइल कंपनियों की सभी स्कीमें सुचारू रूप से चल रही हैं। रिलायंस,एयरटेल, टाटा इंडिकॉम व एयरसेल की स्कीम अगर सही समय पर शुरू हो जाती है तो आखिर बीएसएनएल का क्यों नहीं? डा. मिश्रा का कहना है कि हाल में ही एयरसेल एक स्कीम लाई थी जिसमें सभी मोबाइल नेटवर्क पर मुफ्त बातचीत की थी। कौन नहीं जानता है कि एयरसेल बीएसएनएल के नेटवर्क के सहार ही अपनी इस योजना सफलतापूर्वक चला रहा है। लेकिन बीएसएनएल की सभी योजनाएं खटाई में क्यों पड़ी हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मैजिक वाउचर योजना फेल: डा. फणिकांत मिश्रा