अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसानों की स्थिति सुधारे बिस्कोमान

अगर राज्य के किसानों की स्थिति में सुधार करना है तो बिस्कोमान को आगे आना होगा। शुरू से ही तपेश्वर जी एवं नवल जी के बिस्कोमान को लोग बीज एवं खाद के नाम से जानते हैं। अगर बिस्कोमान किसानों की स्थिति में सुधार करने में सफलता हासिल कर लेता है तो उक्त दोनों विभूतियोें के लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इसकी सफलता के लिए सहकारिता मंत्री एवं बिस्कोमान अध्यक्ष की बहुत बड़ी जिम्मेदारी है।ड्ढr ये बातें विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने गुरुवार को पूर्व सांसद स्व. नवल किशोर सिंह एवं तपेश्वर सिंह की आदमकद प्रतिमा के अनावरण समारोह में कहीं। उन्होंने कहा कि बिहार की धरती में अभी भी काफी उपजाऊ है। अगर किसानों को सही मार्ग दर्शन मिले तो बिहार अकेले देश के सभी लोगों के लिए खाद्यान्न उपलब्ध करा सकता है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए बिस्कोमान के अध्यक्ष डा. सुनील कुमार सिंह ने कहा कि नवल बाबू एवं तपेश्वर बाबू के सभी सपनों को साकार किया जाएगा और अगले दो-तीन महीने में बिस्कोमान के 16वें तल्ले पर रिवाल्विंग रस्तरां बन जाएगा।ड्ढr ड्ढr सहकारिता मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि सहकारिता को पुनर्जीवित करना ही नवल बाबू एवं तपेश्वर बाबू के लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने कहा कि हमारा बिहार कृषि प्रधान राज्य है और जब तक हम किसानों की स्थिति में सुधार नहीं करंगे तब तक उक्त दोनों नेताओं का सपना साकार नहीं होगा। खाद्य मंत्री नरन्द्र सिंह ने कहा कि आज तो बिस्कोमान परिसर में दोनों विभूतियों की प्रतिमा का अनावरण किया गया है लेकिन आज जरूरत है उनके विचारों को अपने हृदय में स्थापित करने की। इस मौके पर निदेशक रघुवंश नारायण सिंह, रामकलेवर प्रसाद सिंह, राम विशुन यादव, राम दुलार शर्मा, अनवर अंसारी, रंणजीत सिंह एवं राम बाबू सिंह सहित कई लोग उपस्थित थे। प्रबंध निदेशक अशोक कुमार झा ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: किसानों की स्थिति सुधारे बिस्कोमान