अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तानाशाही जायज मानता रहा यूएस : जरदारी

पीपीपी के सहअध्यक्ष आसिफ अली जरदारी ने वाशिंगटन टाईम्स को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि अमेरिका अपने संकीर्ण हितों के लिए पाकिस्तान में लंबे समय से तानाशाहों को समर्थन देता रहा है। अमेरिका 10 में शीत युद्ध के कारण पाकिस्तान में तानाशाही को जायज ठहराता था। अब 21 वीं शदी में तानाशाही को ‘आतंकवाद के खिलाफ युद्ध’ के नाम पर जायज कहा जा रहा है। जरदारी का मानना है कि इससे केवल आतंकवादियों को ही शक्ति प्राप्त होती है और देश के लोग अमेरिका के खिलाफ हो गए हैं। जरदारी ने कहा कि आर्थिक रूप से समृद्ध और लोकतांत्रिक पाकिस्तान के लिए लंबे समय तक अमरिकी प्रतिबद्धता से ही इस प्रक्रिया को बदला जा सकता है। जरदारी का मानना है कि अमेरिकी कांग्रेस इस बात को महसूस करेगी कि दक्षिण एशिया की स्थिरता में ही उनका हित है और इस क्षेत्र की स्थिरता की कुंजी लोकतांत्रिक और आर्थिक रूप से संपन्न पाकिस्तान में ही निहित है। पाक और अमेरिका के रिश्ते सैनिक जरूरतों पर आधारित हैं, जबकि इनको मूल्यों के आदान-प्रदान और आपसी सम्मान पर आधारित होना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि पश्चिमी देश पाकिस्तान के आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए लंबे समय की योजना के प्रति समर्थन दिखाएं, अर्थव्यवस्थाके विकास, एक स्कूल व्यवस्था के निर्माण और स्वास्थ्य व्यवस्था के निर्माण में सहयोग करें तो हमारी सीमा से आतंकवाद का खतरा समाप्त हो सकता है। दक्षिण एशिया को मुक्त व्यापार क्षेत्र बनाने और सीमाएं खोलने के लिए भारत और पाकिस्तान को निर्णायक कदम उठाना चाहिए। जरदारी ने कहा कि कश्मीर मामला हल होना जरूरी है, लेकिन उससे भी जरूरी है कश्मीर के दोनों हिस्सों में शांति की स्थापना। आने वाले समय में दक्षिण एशिया मुक्त आर्थिक बाजार क्षेत्र बन जाएगा। भविष्य मंे दक्षिण एशिया तकनीकी और संचार के सामूहिक बाजार के रूप में उभरेगा। जरदारी ने कहा कि उनकी पत्नी बेनजीर भुट्टो का लक्ष्य लंबे समय में दक्षिण एशिया को मुक्त व्यापार क्षेत्र के रूप विकसित करने का था। बेनजीर की आखिरी किताब ‘रिकांसीलिएशन’ मंे इसके बारे में चर्चा की गई है। लेकिन इस दिशा में बहुत कम प्रगति हुई है। जरदारी ने कहा कि आपसी तनाव व समस्याओं के बावजूद दोनों पक्षों को ईमानदारी से मुक्त व्यापार क्षेत्र के निर्माण पर प्रतिबद्धता दिखानी चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: तानाशाही जायज मानता रहा यूएस : जरदारी