DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवैध वसूली करते मिले दो जांच केन्द्र

पिछले दिनों दैनिक हिन्दुस्तान में छपी खबर वाहन प्रदूषण जांच केन्द्रों पर अवैध वसूली को परिवहन विभाग ने गंभीरता से लिया है। परिवहन विभाग के उप सचिव वशिष्ट सिंह ने बताया कि परिवहन विभाग के पदाधिकारियों की टीम ने राजधानी एवं आसपास के इलाकों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान दो जांच केन्द्रों पर अवैध वसूली पायी गयी। उनमें एक पटना सिटी स्थित दीवान मुहल्ले में ललन प्रसाद का है और दूसरा राम बालक महतो का हरिओम प्रदूषण जांच केन्द्र, अनिसाबाद में स्थित है। श्री सिंह ने बताया कि दोनों विभाग ने दोनों जांच केन्द्रों का लाइसेंस रद्द कर दिया है। इधर दूसरी ओर अनिसाबाद स्थित विजय पेट्रोल द्वारा बिना लाइसेंस के प्रदूषण जांच करने के आरोप में पंप के मालिक पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।ड्ढr ड्ढr इधर दूसरी ओर कई केन्द्रों पर चोरी-छीपे अभी भी मोटर साइकिल के लिए 30 की जगह 60 एवं कार के लिए 50 की जगह 100 रुपए वसूल किए जा रहे हैं। यदि वाहन का प्रदूषण जांच तुरंत करवाना है तो केन्द्र के मालिक 30 की जगह 75 रुपए लिए जा रहे हैं। लोगों का कहना है कि एक ओर प्रदूषण जांच केन्द्रों पर अवैध वसूली की जा रही है तो दूसरी जगह सुशासन के नाम पर जगह-ागह वाहन चेंकिग लगाकर आम जनों को परशान किया जा रहा है। घर से निकलने के बाद गंतव्य स्थान पहुंचने के बीच पांच से सात जगहों पर वाहन चेकिंग के नाम पर घंटो रोका जाता है। कागजात पूर्ण होने के बावजूद कुछ न कुछ नुनुक्स निकालकर अवैध रूप से धन की उगाही की जा रही है। वहीं पुलिस लिखे वाहनों को नजरअंदाज कर दिया जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अवैध वसूली करते मिले दो जांच केन्द्र