DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शारापोवा और यांकोविच की संघर्षपूर्ण जीत

विश्व की नम्बर एक टेनिस खिलाड़ी रूस की मारिया शारापोवा और तीसरी वरीयता प्राप्त एलेना यांकोविच को फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट में शनिवार को अपने मैच जीतने के लिए काफी पसीना बहाना पड़ा। शारापोवा को जहां तीसरे राउण्ड में इटली की कैरिन नैप के खिलाफ मैच के 81 मिनट तक चले पहले मैराथन सेट को 7-6 से जीतने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी वहीं यांकोविच को स्लोवाकिया की डोमिनिका सिबुलकोवा के खिलाफ 7-5, 6-3 से जीत के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ा। शारापोवा को 32वीं वरीयता प्राप्त प्रतिद्वंदी नैप के खिलाफ 7-6, 6-0 से जीत हासिल करने के लिए एक घंटे 58 मिनट तक मुकाबला करना पड़ा। शारापोवा का अगला मुकाबला एक अन्य मैच में चीन की झेंग जी को 6-2, 7-5 से हराने वाली उनकी हमवतन दिनारा सफीना से होगा। कड़े मुकाबले में जीत के बाद शारापोवा ने कहा कि मैच को दो सेट में खत्म करना मुझे अच्छा लगा। मैं हालात को बदलकर अपने लिए मौके बनाना चाहती थी। शारापोवा को पहले सेट में संघर्ष करना पड़ा। नैप के जोरदार खेल की बदौलत यह सेट ट्राइब्रेकर तक पहुंचा। मगर 81 मिनट तक चले इस सेट में बाजी 7-4 से शारापोवा के हाथ लगी। दूसरे सेट में रूसी खिलाड़ी ने अपना दमखम दिखाते हुए नैप को कोई मौका नहीं दिया और यह सेट 6-0 से जीतकर मुकाबला अपने नाम कर लिया। शारापोवा मैच जीत गईं मगर रोलां गैरो पर पिछले साल सेमीफाइनल तक पहुंची इस रूसी खिलाड़ी का अनपेक्षित प्रदर्शन यह बयान करने के लिए काफी है कि वह अब तक लाल बजरी से पूरी तरह तालमेल बैठाने में नाकाम रही हैं। उधर तीसरी वरीयता प्राप्त यांकोविच भी स्लोवाकिया की सिबुलकोवा के खिलाफ मुश्किल से जीत हासिल कर सकीं। उन्होंने हालांकि यह मैच 7-5, 6-3 से जीता मगर सिबुलकोवा ने इस दौरान उनकी कड़ी परीक्षा ले डाली। यह मैच शुक्रवार को खराब रोशनी की वजह से 7-5, 4-2 के स्कोर पर अधूरा छोड़ दिया गया था। यांकोविच को 28वीं वरीयता प्राप्त सिबुलकोवा से कड़ी टक्कर मिली हालांकि दूसरे सेट में स्लोवाकियाई खिलाड़ी अपनी लय बरकरार नहीं रख सकी जिसका फायदा उठाते हुए यांकोविच ने दूसरा सेट 6-3 से जीत कर बाजी अपने नाम कर ली। क्वार्टरफाइनल में पहुंचने के लिए यांकोविच का अगला मुकाबला 14वीं वरीयता प्राप्त पोलैंड की एग्नीसका रैदवांस्का से होगा। अन्य मुकाबलों में रूस की स्वेतलाना कुजनेत्सोवा ने 25वीं वरीयता प्राप्त हमवतन खिलाड़ी नादिया पेत्रोवा को लगातार सेटों में 6-2, 6-1 से हरा दिया। इसके अलावा बेलारूस की विक्टोरिया अजरेंका ने 18वीं वरीयता प्राप्त फ्रांसेस्का शियावोन को 6-1, 6-1 से हराया। दूसरी ओर पुरुषों के वर्ग में रॉबी गिनेप्री अपने प्रतिद्वंदी फ्लोरेंट सेरा को 6-4, 6-4, 6-4 से हराकर पांच साल के बाद फ्रेंच ओपन के चौथे दौर में पहुंचने वाले पहले अमरीकी खिलाड़ी बन गए हैं। इससे पहले वर्ष 2003 में आंद्रे अगासी फ्रेंच ओपन के चौथे राउण्ड में पहुंचने वाले अमरीकी खिलाड़ी थे। एकल वर्ग में बचे रह गए अमरीका के एकमात्र खिलाड़ी गिनेप्री ने सेरा को एक घंटे 44 मिनट तक चले मैच में हार का स्वाद चखाया। क्वार्टरफाइनल में जगह बनाने के लिए गिनेप्री का मुकाबला स्विट्जरलैंड के स्टैनिसलास वावरिंका अथवा चिली के फर्नांडो गोंजालेज से होगा। एक अन्य मैच में चेक गणराय के रादेक स्तेपानेक ने स्पेन के टॉमी रोबरेडो को 6-3, 6-2, 6-1 से हराया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शारापोवा और यांकोविच की संघर्षपूर्ण जीत