अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधानसभा उपाध्यक्ष ने चाय नाश्ते पर खर्चे 16 लाख

वैसे तो चाय के प्याले को लोगों के बीच खुशियां लाने वाला माना जाता है लेकिन मेघालय विधानसभा के निवर्तमान उपाध्यक्ष पीडब्ल्यू मुक्ितह को चाय का प्याला काफी महंगा पड़ रहा है। वजह यह है कि वर्तमान अध्यक्ष बिंदो एम लानोंग ने मुक्ितह के चाय-नाश्ते के 16 लाख रूपए के बिल का भुगतान करने से इन्कार कर दिया है। बताया जाता है कि मुक्ितह ने दिसम्बर 2006 से जनवरी 2008 के अपने 14 महीने के कार्यकाल के दौरान नाश्ते पर यह भारी खर्च किया था। विधानसभा सदस्यों के बेहिसाब चाय पीने से हैरान लानोंग ने सदस्यों के चाय नाश्ते के लिए तय किया गया मासिक बजट 5000 रूपए से घटाकर 2000 रूपए कर दिया है। उन्होंने कहा कि मैं आश्चर्यचकित हूं कि विधानसभा के इतने छोटे कैंटीन में कोई एक व्यक्ित चौदह महीने में केवल चाय और नमकीन पर 16 लाख रूपए का खर्च कैसे कर सकता है। मुक्ितह ने कहा कि मुझे पता नहीं है कि इस बिल का भुगतान हुआ है या नहीं। लेकिन यदि कांग्रेस सत्ता में आती है तो वह खुशीखुशी लंबित बिल का भुगतान कर देगी। हालांकि मुक्ितह ने इस लंबे चौड़े बिल के लिए अपने पूर्ववर्ती अध्यक्ष मार्टिन एम डांग्गो को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि डांग्गो विधायकों की फिजूलखर्ची पर रोक लगाने में नाकाम रहे। लानोंग ने अपने सहकर्मियों से अपना साथ देने की उम्मीद करते हुए कहा कि अगर मेरे चाय-नाश्ते का बिल 2000 रूपए की नई सीमा को पार करता है तो मैं अतिरिक्त बिल का भुगतान अपनी जेब से करुंगा। मैं तय खर्चे के अलावा सरकार पर अन्य कोई बोझ नहीं डालना चाहता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विधानसभा उपाध्यक्ष ने चाय नाश्ते पर खर्चे 16 लाख