अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्थाई लोकतंत्र के लिए स्वतंत्र न्यायपालिका जरूरी : चौधरी

पाकिस्तान के अपदस्थ मुख्य न्यायाधीश जस्टिस इफ्तिखार मोहम्मद चौधरी ने न्यायपालिका की स्वायत्तता और अपदस्थ जजों की बहाली को लेकर संघर्ष जारी रखने का संकल्प दोहराते हुए कहा है कि स्थाई शासन तंत्र के लिए स्वायत्त न्यायपालिका जरूरी है। जस्टिस चौधरी ने न्यायपालिका की आजादी के लिए वकीलों के संघर्ष को विश्व में अनूठा और अद्वितीय उदाहरण करार दिया। उन्होंने उम्मीद जताई कि यह संघर्ष सफलता और अपेक्षित लक्ष्य हासिल करने के बाद खत्म होगा। वकीलों के संघर्ष को समर्थन दिलाने में मीडिया की भूमिका की सराहना करते हुए कहा कि मीडिया वकीलों के संघर्ष की आवाज साबित हुआ। उन्होंने कहा कि मजबूत एवं आजाद न्यायपालिका स्थाई लोकतंत्र की निशानी है और स्वतंत्र न्यायपालिका होने की दशा में कोई भी तानाशाह संसद के खिलाफ कदम उठाने की हिम्मत नहीं कर सकता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘स्थाई लोकतंत्र के लिए स्वतंत्र न्यायपालिका जरूरी’