DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नए शिक्षकों को भी मिलेगी मेडिचकल लीव

सूबे के दो लाख से अधिक नए शिक्षकों को अब मेडिकल लीव भी मिलेगा। अवकाश के साथ ही सरकार नियमित शिक्षकों की तर्ज पर उनकी सेवा शर्तो में कई तरह के सुधार करने वाली है। दूसर चरण की संशोधित शिक्षक नियोजन नियमावली, 2008 में इसके लिए प्रावधान किए जा रहे हैं। मानव संसाधन विकास विभाग नई नियमावली को फिनिशिंग टच देने में लगा है। नियमावली में प्रावधान होने पर इस छुट्टी का लाभ पहले चरण में बहाल हो चुके 1.22 लाख और दूसर चरण में बहाल होने वाले एक लाख से अधिक शिक्षक उठा सकेंगे।ड्ढr ड्ढr विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक नए शिक्षकों को अभी सीएल और मातृत्व अवकाश के सिवा कोई छुट्टी नहीं मिल रही है। उनको अब रुग्णावकाश देने पर भी विचार किया जा रहा है जो संभवत: चार दिन का होगा। इसके साथ ही देर-सवेर महिला शिक्षकों की तरफ से ‘नेचुरल लीव’ की मांग उठना भी तय है। हाल ही में सरकार ने ठेके पर बहाल नर्सो के लिए भी हर महीने दो दिन का पारिस्थितिकी अवकाश मंजूर किया है। इसके मद्देनजर शिक्षक संगठनों में सुगबुगाहट शुरू हो गई है। हाल के दिनों में जिलों और प्रखंडों में तैनात शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा छुट्टियों के मामले में नए शिक्षकों को मनमाने ढंग से परशान करने की अनेक शिकायतें विभाग को मिली हैं। किसी इमरजेंसी में यदि कोई शिक्षक लम्बी छुट्टी पर चला गया तो उसकी सेवा समाप्त करने की धमकी दी जाती है। भविष्य में इस तरह की समस्याओं से बचने के लिए विभाग पहले से ही इन सबके बार में नियमावली में स्पष्ट प्रावधान करने में जुटा है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नए शिक्षकों को भी मिलेगी मेडिचकल लीव