DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीतीश, लालू, पासवान एक मंच पर दिखेंगे

अल्पसंख्यकों केहित में चलने वाली सरकारी योजनाओं की जानकारी उन्हें दिलाने के लिए 21 जून को पटना में ‘अल्पसंख्यक शिक्षा बेदारी कांफ्रंस’ होगा। कांफ्रंस में अल्पसंख्यकों के शैक्षणिक एवं आर्थिक पिछड़ेपन दूर करने के महत्वपूर्ण प्रस्ताव लिये जाएंगे। केन्द्र सरकार और बिहार सरकार द्वारा उनके लिये चलायी जा रहीं कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। बिहार अल्पसंख्यक शिक्षा बोर्ड और अंजुमन तरक्की-ए-उर्दू के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित होने वाले इस कांफ्रंस में देश के चर्चित बुद्धिजीवी, चिन्तक, समाजविज्ञानी व राजनीतिज्ञ शामिल होंगे। बिहार के नीतीश, लालू व रामविलास के भी शामिल होने की संभावना है।ड्ढr ड्ढr लोजपा अध्यक्ष व केन्द्रीय इस्पात,रसायन व उर्वरक मंत्री रामविलास पासवान ने कांफ्रंस में शामिल होने की सहमति दे दी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं राजद अध्यक्ष व रल मंत्री लालू प्रसाद को भी कांफ्रंस में आमंत्रित किया गया है। सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति ए.एम. अहमदी, राज्यसभा के उपसभापति के. रहमान खान, केन्द्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष मो. शफी कुरैशी, प्रख्यात गीतकार जावेद अख्तर, सांसद एवं कांग्रस की वरीय नेता मोहसिना किदवई, सुप्रीम कोर्ट के वरीय वकील अशोक श्रीवास्तव समेत कई अन्य लोग कांफ्रंस में शिरकत करंगे। बिहार अल्पसंख्यक शिक्षा बोर्ड व कटिहार मेडिकल कॉलेज के अध्यक्ष वरीय कांग्रसी अहमद अशफाक करीम और अंजुमन तरक्की-ए-उर्दू के सचिव अब्दुल कयूम अंसारी ने रविवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बिहार में इतने बड़े पैमाने पर पहली बार ‘अल्पसंख्यक शिक्षा बेदारी कांफ्रंस’ का आयोजन किया जा रहा है। आजादी के 60 साल बाद भी अकलितयतों की स्थिति अच्छी नहीं हुई है। उनके आर्थिक एवं शैक्षणिक हालात पहले से बदतर हुए हैं। सियासत में हिस्सेदारी कम हुई है। कांफ्रंस में समस्याओं के हल खोजे जाएंगे जिससे एक नई राह खुलेगी। सूबे के अल्पसंख्यकों से अपील है कि इसमें शिकरत कर समस्याओं को गिनायें और हल खोजने में सार्थक मदद करं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नीतीश, लालू, पासवान एक मंच पर दिखेंगे