अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आखिरी बॉल पर हार गये धौनी

एक गेंद, एक रन। दिल थामे स्टेडियम और हार गये धौनी। पूर खेल के दौरान उतार-चढ़ाव बना रहा। कभी धौनी भारी, कभी वार्न। लेकिन दगा दे गया माही का मुकद्दर और यूसुफ पठान की साहसिक बल्लेबाजी ने मैच को धौनी से छीन कर शेन वार्न की झोली में डाल दिया। मैच की अंतिम गेंद पर एक रन लेकर सोहेल तनवीर ने राजस्थान रॉयल्स को आइपीएल का सिरमौर बना दिया। इस पूर टूर्नामेंट में पैसे का बोलबाला रहा। चेन्नई टीम के सबसे मंहगे खिलाड़ी (6 करोड़ रुपये) कप्तान एमएस धौनी को जितनी कीमत मिली, उससे भी कम पैसे में राजस्थान रॉयल्स के पूर खिलाड़ी आंके गये। इस तरह सच कहा जाये, तो पैसे के आगे खेल की जीत हुई। पूर टूर्नामेंट में शेन वार्न ने जिस तरह से गजब की कप्तानी और खेल भावना का परिचय दिया, वह बेमिसाल है। इसी का परिणाम रहा कि मुंबई के डीवाइ स्टेडियम में बैठे 80 फीसदी दर्शक तहेदिल से वार्न की टीम के साथ थी। टीवी पर मैच देख रहे लोग भी राजस्थान रॉयल्स की जीत चाहते थे क्योंकि इस टीम ने सबसे कम पैसे लेकर टूर्नामेंट में सबसे अच्छे खेल का प्रदर्शन किया। टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन के लिए शेन वाट्सन को मैन ऑफ दि सिरीा चुना गया। मैच में तीन विकेट लेकर साहसिक बल्लेबाजी से राजस्थान रॉयल्स को टूर्नामेंट चैंपियन बनाने वाले यूसुफ पठान को मैन ऑफ दि मैच घोषित किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आखिरी बॉल पर हार गये धौनी