DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली-यूपी के बीच बस समझौता

दिल्ली और उत्तर प्रदेश की सरकारों के बीच सोमवार को एक ऐतिहासिक बस समझौता होने से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र से हजारों की संख्या में आने वाले दैनिक यात्रियों की असुविधाआें का अंत हो गया। इस समझौते के तहत दोनों रायों के बीच बेरोकटोक अंतरराज्यीय परिवहन आवागमन संभव हो जाएगा। समझौते के तहत नोएडा और उत्तर प्रदेश में पड़ने वाले राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र से बसें अब दिल्ली हवाई अड्डे, केन्द्रीय सचिवालय और नई दिल्ली रेलवे स्टेशन तक आ जा सकेंगी। उत्तर प्रदेश के इन क्षेत्रों से आने वाले यात्रियों के लिए नेहरु प्लेस, वसंत विहार, बदरपुर, महरौली, आरम, प्रगति मैदान और शिवाजी स्टेडियम तक पहुंचाना आसान हो जाएगा। इसी प्रकार दिल्ली परिवहन निगम की बसें नोएडा के अलावा उत्तर प्रदेश में पड़ने वाले राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्रों में बिना किसी रोकटोक के चलेगीं। इस आशय के समझौते पर सोमवार को दिल्ली के परिवहन मंत्री हारुन युसूफ और उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री रामअचल राजभर की मौजूदगी में दोनों परिवहन निगमों के आयुक्तों आर के वर्मा तथा डी डी वर्मा ने हस्ताक्षर किए। वैसे तो उत्तर प्रदेश में मायावती के नेतृत्व में पिछले साल बहुजन समाज पार्टी की सरकार आने पर करीब एक साल से चल रहे गतिरोध को दूर करने की दिशा में कदम उठाया गया था। इस समझौते के बाद बस समझौते को अब कानूनी रूप मिल गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दिल्ली-यूपी के बीच बस समझौता