अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कॉलेचाों के शिक्षकों का वेतन बढ़ेगा

विश्वविद्यालय व डिग्री कॉलेाों के शिक्षकों के वेतन में वृद्धि की कवायद शुरू हो गई है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग उच्च शिक्षण संस्थानों से योग्य व अनुभवी शिक्षकों का पलायन रोकने के लिए उनके वेतन व अन्य सुविधाएँ बढ़ाने की केन्द्र सरकार से सिफारिश करनेोा रहा है। केन्द्र सरकर की ओर से इसके लिए गठित यूाीसी की रिव्यू कमेटी ने सोमवार को यहाँ प्रदेश के विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतियों, शिक्षकों तथा शिक्षक संगठनों के साथ बैठक कर उनसे वेतन के सम्बंध में राय मशविरा किया। शिक्षकों तथा शिक्षक संगठनों ने कमेटी के सामने दो से तीन गुना वेतन बढ़ाने की बात रखी।ड्ढr बैठक में शिक्षकों तथा शिक्षक संगठनों ने योग्य व अनुभवी शिक्षकों के नौकरी छोड़ने की वाह कम वेतन बताया। वेतन रिव्यू कमेटी के अध्यक्ष व यूाीसी के सचिव डॉ. आर.के. चौहान ने यूाीसी भी योग्य शिक्षकों की कमी से काफी चिन्तित है। इस मामले पर केन्द्र द्वारा गठित रिव्यू कमेटी की दिल्ली तथा चण्डीगढ़ के शिक्षकों व शिक्षक संगठनों के साथ बैठक हो चुकी है।ड्ढr देश के 12 शहरों में शिक्षकों के साथ इस तरह की बैठकें होंगी। कमेटी अपनी रिपोर्ट सितम्बर में केन्द्र सरकार को सौंप देगी।ोिसके बाद सरकार उनके वेतन का निर्धारण करगी। लूटा अध्यक्ष अनिल शुक्ला ने केन्द्रीय विश्वविद्यालयों के शिक्षकों के समान वेतन दिएोाने की बात कही। लुआक्टा के अध्यक्ष मौलेन्दु मिश्रा ने कहा कि छठे वेतन आयोग में रीडर का वेतन काफी कम रखा गया है। कमेटी मंगलवार को विचार-विमर्श करगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कॉलेचाों के शिक्षकों का वेतन बढ़ेगा