अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

50 साल बाद स्कूल लौटे अमिताभ

सिने जगत के बादशाह अमिताभ बच्चन के लिए मंगलवार का दिन यादगार बनकर आया जब वह सरोवरनगरी स्थित अपने स्कूल शेरवुड में पूरे पचास साल बाद पहुंचे। एकसाधारण इंसान नहीं बल्किसदी के महानायकबनकर। स्कूल पहुंचने के बाद अपनी पुरानी यादें ताजा कीं। इस मौकेपर मौजूद कई सहपाठियों से मिले तो गले लगा लिया और उनके हालचाल से वाकिफहुए। फाउंडेशन डे के मौकेपर खासतौर पर मंचित प्ले का आनंद उठाने के दौरान बिग बी अतीत में खो गए। स्कूल का यह वही हॉल और मंच था जहां कभी अमिताभ बच्चन ने इसी प्रकार के आयोजनों में किरदार निभाया और अंतिम वर्ष में वह इससे वंचित रह गए थे। जहां कभी उन्होंने भी किरदार निभाया था। भारी भीड़ व सुरक्षा के बीच जब साढ़े चार बजे बिग बी शेरवुड कॉलेज के गेट पर पहुंचे तो पूरा वातावरण तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। कॉलेज प्रशासन की ओर से वरिष्ठ शिक्षकएमसी पांडे और साथियों ने अमिताभ बच्चन का स्वागत किया। बिग बी ने हाथ हिलाकर कार्यक्रम में मौजूद सभी लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। वह काफी खुश नजर आ रहे थे। भीड़ के बीच उन्हें स्वागत कक्ष में ले जाया गया जहां प्रधानाचार्य अमनदीप संधू से उन्होंने भेंट की। कुछ देर विश्राम के बाद वह अपनी याद ताजा करते हुए मिलान हॉल की तरफ बढ़े। यहां उनके कई सहपाठी उनका बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। यहां पहुंचते ही अमिताभ ने चंड़ीगढ़ से आये सरदार सुखपाल सिंह बाजवा, एसपी सिंह समेत अन्य साथियों से बड़ी आत्मीयता से मुलाकात की। उनके हालचाल जाने। कुछ समय तकउनसे बातचीत के बाद उन्होंने मिलान हॉल का रुख किया। जहां जूनियर सेक्शन के बच्चों ने नाटकप्रस्तुत किया। स्कूल में जूनियर सेक्शन के सभी बच्चों ने इस नाटकमें भागीदारी की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 50 साल बाद स्कूल लौटे अमिताभ