अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्या हत्याकांड :एयरलाइंसकी पैसेंजर लिस्ट से मिला अहम सुराग

रंगीन मिजाज आशिक नीतिन ने पहले चार वर्षो तक बेइंतहा मुहब्बत की फिर माशूका बनी विद्या को मौत की नींद सुला दिया। साथ ही दूसरी लड़की से शादी रचा कर विद्या को मौत के मुंह में सुला दिया। अंतत: 28 अप्रैल को पीएमसीएच में मिली अज्ञात युवती (विद्या) की लाश की गुत्थी पटना पुलिस ने सुलझा ली। गांव में जहर देने के बाद विद्या के शव को मोहन सिंह 28 अप्रैल की शाम पीएमसीएच इमरजेंसी में रख कर भाग निकला था। वहीं स्थानीय थाने को उसने अज्ञात लाश मिलने की सूचना दी थी।ड्ढr ड्ढr करीब एक महीने तक एसएसपी अमित कुमार के निर्देशन में पटना से पुणे-मुम्बई तक चले अनुसंधान के क्रम में फुलवारीशरीफ डीएसपी दिलनवाज अहमद की टीम को इंडियन एयरलाइंस के पैसेंजर लिस्ट से कई अहम सुराग मिले। इसके पूर्व कुछ ग्रामीणों ने मृतका का नाम विद्या होने की बात बताई थी पर पैसेंजर लिस्ट में उसका पता नहीं मिल सका क्योंकि पुलिस आठवें दिन पहुंची जबकि दो दिनों तक ही लिस्ट में नाम-पता ऑन लाइन रहता है। फिर पुलिस ने विद्या के मोबाइल नंबर के आधार पर उसका पता प्राप्त किया। नीतिन व विद्या के कॉल डिटेल्स ने उनके संबंधों पर मुहर लगा दी। नीतिन ने विद्या से 25 अप्रैल तक बातें की वहीं विद्या के मोबाइल से नीतिन को 27 अप्रैल तक कॉल किया गया था।ड्ढr बहरहाल पुलिस की नजर में हत्या में प्रमी नीतिन और उसके पिता व वायु सेना के हवलदार मोहन सिंह (किरोड़ीचक, फुलवारीशरीफ) की संलिप्तता है। एसएसपी ने बताया कि मोहन को पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है जबकि नीतिन की गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिये हैं। 26 अप्रैल को पुणे में विद्या के परिजनों ने उसके रहस्यमय तरीके से लापता होने का मामला थाने में दर्ज कराया था।ड्ढr आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक मुम्बई में तैनात एयर फोर्स कर्मी मोहन सिंह ने पुणे में अपना फ्लैट ले रखा था। वहीं रह कर उनका बेटा नीतिन मेडिकल रिप्रजेंटेटिव (एमआर) का काम करता था। इसी दौरान एमआर विद्या से उसकी दोस्ती हुई जो प्यार में बदल गई। डेढ़ वर्ष पूर्व नीतिन ने मुम्बई में आईसीआईसीआई बैंक ज्वाइन कर लिया।ड्ढr ड्ढr विद्या का आना-जाना जारी रहा। हालांकि विद्या के घरवाले नीतिन से उसकी शादी के फैसले के खिलाफ थे। दोनों पुणे के चिंचवार क्षेत्र में रहते थे। 11 अप्रैल को पिता की मृत्यु के सदमे से वह उबर भी नहीं पाई थी कि अपने प्रमी के किसी और के साथ शादी रचाने की बात पता चली। पिता के श्राद्ध के दो दिन बाद ही वह 27 अप्रैल को इंडियन एयरलाइंस के विमान से पटना पहुंच कर सीधे नीतिन के गांव फुलवारीशरीफ थानांतर्गत करोड़ीचक पहुंची थी। पुलिस के मुताबिक चैटिंग आदि के सहार पटना की एक लड़की से प्रम किया फिर बीते अप्रैल में उसी के साथ अंतरजातीय विवाह किया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विद्या हत्याकांड :एयरलाइंसकी पैसेंजर लिस्ट से मिला अहम सुराग