अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजपूतों ने आरक्षण समर्थक आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी

राजस्थान में गुर्जर आंदोलन के बाद राजपूत समाज ने आरक्षण को लेकर आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी है। श्रीकरणी राजपूत सेना के तत्वावधान में महाराणा प्रताप जयंती के मौके पर आयोजित चेतावनी रेली में सेना के प्रधान संयोजक लोकेन्द्र सिंह कालवी ने सरकार को सात दिन का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि सरकार राजपूतो के धैर्य की परीक्षा और ना ले वरना हालात गंभीर हो सकते है। गुर्जरों के आंदोलन को वसुंधरा की नाकामी बताते हुए कहा कि नैतिकता के आधार पर भाजपा को मुख्यमंत्री बदल देना चाहिए। श्री कालवी ने जोशीले अंदाज में राजपूतोु से आगामी चुनावों में पिछले चुनावों से सबक लेने की सलाह दी और कहा कि जो राजपूत आरक्षण की बात करेगा राजपूत उसे ही वोट देगा। उन्होंने दलील दी कि गुर्जरों की मौत से राजपूतो ने सबक लिया है। उन्होंने राजपूतों को उग्र होने से बचने की सलाह भी दी और कहा कि जब तक जान पर नही बने अनुशासित बनकर लोकतांत्रिक तरीके से आरक्षण की मांग को बुलंद रखना है। जहां इस आंदोलन में गुर्जर नेता इन्द्रराज सिंह गुजर ने शिरकत कर आंदोलन में राजपूतो के सहयोग मांगा तो मौजूद भीड़ ने दोनो हाथ खडे कर समर्थन देने की घोषणा की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजपूतों ने आरक्षण समर्थक आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी