अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ज्वाला पेट्रोलियम के मूल्य बढ़ें।

सीएम मधु कोड़ा ने कहा है कि महंगाई राष्ट्रीय समस्या है। पीएम और केंद्रीय वित्त मंत्री ने जनता को आश्वस्त किया है कि केंद्र इसे नियंत्रित करने में लगी है। राज्य की जनता को आशान्वित होना चाहिए। बिहार की तर्ज पर पेट्रॉलियम पदार्थो पर सेल्स टैक्स में कमी करने के सवाल पर सीएम ने कहा कि झारखंड सरकार पहले ही दो प्रतिशत की कमी कर चुकी है। फिर भी राज्य सरकार एक बार और समीक्षा करगी।जनता को चौराहे पर ला खड़ा किया : अजरुन मुंडाड्ढr रांची। पूर्व मुख्यमंत्री अजरुन मुंडा ने कहा है कि केंद्र की यूपीए सरकार ने महंगाई के मामले में देश की जनता को चौराहे पर ला खड़ा कर दिया है। मुंडा बुधवार को सेवा विमान से दिल्ली जाने के क्रम में एयरपोर्ट पर उपस्थित पत्रकारों से बातचीत करने के क्रम में उक्त बातें कहीं। उन्होंने कहा कि पेट्रोल, डीाल और रसोई गैस में दाम बढ़ाने के लिए जिम्मेदार दलों के खिलाफ जनता को गोलबंद कर भाजपा आंदोलन करगी। ट्रक भाड़ा में 10 फीसदी की होगी वृद्धि आज पीएम का पुतला फूंकेंगेड्ढr रांची। झारखंड ट्रक ऑनर्स एसोसिएशन ने केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोलियम पदार्थो में की गयी मूल्यवृद्धि का विरोध किया है। एसोसिएशन ने निर्णय लिया है कि तेल की कीमतों में हुई बढ़ोत्तरी के कारण ट्रक भाड़ा में 10 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की जायेगी। नयी दर छह जून से राज्य में लागू माना जायेगी। उदय शंकर ओझा ने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थो की कीमत में हुई बढ़ोत्तरी के विरोध में पांच जून को पूर्वाह्न 11 बजे अलबर्ट एक्का चौक पर प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह का पुतला जलाया जायेगा।भड़की महंगाई कीपेट्रोल, डीाल और रसोई गैस के दामों में एक बार फिर हुई वृद्धि ने महंगाई की आग पर तेल छिड़क दिया है। आम आदमी से व्यापारी तक इस बढोत्तरी को लेकर नाराा है। बीते चार साल में पेट्रोलियम पदार्थो की कीमतें 11 बार बढ़ी हैं। दिन दूनी रात चौगुनी, महंगाई की सुरसा का बदन कुछ ऐसे ही बढ़ रहा है। महंगाई की मार से आम आदमी कराह रहा है और सरकार ने भी इस मुद्दे पर चुप्पी ओढ़ ली है। दम निकालते दामों की यह कहानी कहां जाकर खत्म होगी? यह एक सवाल आज लोगों को बेचैन किए है। मई-जून में इस बार मौसम भले कुछ ठंडा रहा हो मगर महंगाई की लू ने सबको पस्त किया। कारोबारी माल-भाड़ा बढ़ने की आशंका से सहमे हैं तो बाजार में लगी आग के बाद आम आदमी आठ-आठ आंसू रो रहा है।दिन में ही पंपों पर लटक गये तालेसंवाददाता रांची पेट्रोल और डीाल की कीमतों में बुधवार की रात 12 बजे से वद्धि किये जाने की खबर मिलते ही राजधानी के अधिकांश पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल नहीं है का बोर्ड लटक गया। जरूरतमंद परशान रहे और पेट्रोल पंप संचालकों ने पेट्रोल पर पांच रुपये और डीाल पर तीन रुपये के एकमुश्त वृद्धि का लाभ उठाने का कोई कसर नहीं छोड़ी। आम लोग एक पेट्रोल पंप से दूसर पेट्रोल पंप का चक्कर लगाते रहे।ड्ढr इधर कुछ पेट्रोल पंपों में स्टॉक रहने तक ग्राहकों को पेट्रोल दिया गया। खुखरी पेट्रोल पंप के अलावा कुछ पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल-डीाल लेनेवालों की लंबी कतार लग गयी। पंप संचालकों द्वारा जान-बूझ कर तेल नहीं बेचने की जानकारी लोगों ने जिला प्रशासन को टेलीफोन पर दी, परंतु किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं होने से आम लोग परशान रहे।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ज्वाला पेट्रोलियम के मूल्य बढ़ें।