अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व मंत्री के भाई ने डाक्टर को धुना

पूर्व मंत्री बैधनाथ प्रसाद महतो के भाई अरविंद प्रसाद ने एमजेके अस्पताल के डॉक्टर अरुण सिंह की बुधवार की सुबह पिटाई कर दी। आक्रोशित अस्पताल कर्मी चिकित्सा व्यवस्था ठप कर अरविंद की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हड़ताल पर चले गये। इससे जहां एक मरीा की मौत हो गई, वहीं कई प्रसूति महिलाएं लेवर रूम में छटपटाती रही। चिकित्सक के बयान पर अरविंद प्रसाद के विरुद्ध नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। एएसपी पंका कुमार राज तथा एसडीपीओ आलोक ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि अरविंद की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। सिविल सर्जन डॉ. पुरुषोत्तम सिंह ने बताया कि अरविंद ने 2007 में भी तत्कालीन अस्पताल अधीक्षक डॉ. बिल्टू पासवान से हाथापाई की थी।ड्ढr डॉ. अरुण सिंह ने बताया कि करीब 11 बजे नौतन के घुमनगर कचहरी टोला से मारपीट में घायल लालजी प्रसाद तथा रवीन्द्र प्रसाद को लाया गया। जिन्हे वार्ड में भर्ती कर दिया गया। कुछ देर बाद अरविंद के साथ पहुंचे अस्पताल उपाधीक्षक अशोक कुमार चौधरी ने एक घायल के अंगुली, पैर में जख्म को नोट करने को कहा। श्री सिंह ने कहा कि जब मै देखा था तो जख्म नहीं था। इसपर अरविंद ने वार्ड में चलकर देखने की जिद करते हुए श्री सिंह का कालर पकड़ पिटाई शुरू कर दी। उधर, पूर्व मंत्री बैधनाथ प्रसाद महतो ने कहा कि उनके रिश्तेदारोंे को अस्पताल में जब भर्ती कराया गया तब डॉ. अरुण सिंह डय़ूटी से गायब थे। इसकी शिकायत उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री से की। इससे खफा डॉक्टर ने झूठा ड्रामा खड़ा किया है। सूचना पा पुलिस सहित डीडीसी अरुण कुमार अस्पताल पहुंच हड़ताल समाप्त कराने का प्रयास किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पूर्व मंत्री के भाई ने डाक्टर को धुना