अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीपीएल आवेदकों पर लाठीचार्ज

बीपीएल सूची में नाम जोड़ने के लिए आवेदन देनेवालों पर पुलिस की लाठियां चलीं। कई लोग जख्मी हुए तथा मची अफरातफरी में कई महिलाएं बेहोश हो गयीं। इस दौरान अभ्यर्थियों से आवेदन के साथ अवैध राशि की वसूली करने की शिकायत मिली। कई लोगों को आवेदन के साथ बैक डोर से नोट भी जमा करते देखा गया। यह दृश्य स्थानीय अनुमंडल कार्यालय में बीपीएल सूची में नाम दर्ज कराने के दौरान बुधवार को देखे गए।ड्ढr ड्ढr उधर समस्तीपुर के सरायरांन प्रखंड में बीपीएल सूची से वंचित सैकड़ों लोगों ने बुधवार को प्रखंड कार्यालय पर आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन किया और बीडीओ चेम्बर के गेट के शीशे तोड़ डाले। बिहारशरीफ में कार्यालय परिसर में बने 4 काउंटरों पर लोगों की लंबी कतारों को सुव्यवस्थित करने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। इस दौरान अफरातफरी की स्थिति के कारण बिजवनपर की गीता देवी समेत कई महिलाएं मुच्र्छित होकर गिर गईं। भीड़ को नियंत्रित करने के दौरान पुलिस को बल प्रयोग भी करना पड़ा। जिससे रहुई प्रखंड के मुसेपुर निवासी मो. इमरोज सहित करीब आधा दर्जन लोगों को चोटें आईं।ड्ढr ड्ढr वहीं समस्तीपुर के सरायरांन प्रखंड में बीपीएल -एपीएल सूची से वंचित सैकड़ों लोगों ने बुधवार को प्रखंड कार्यालय पर आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन किया और बीडीओ चेम्बर के गेट के शीशे तोड़ डाले। प्रदर्शनकारी आपत्ति प्रखंड कार्यालय में जमा करने की मांग कर रहे थे। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि डीलरों के यहां मिट्टी तेल लेने गए तो 300 से अधिक लाभुकों का नाम सूची से गायब मिला। बीडीओ ने सरकारी आदेश के हवाले से आपत्ति समस्तीपुर एसडीओ के यहां जमा करने को कहा। बाद में बीडीओ व एमओ ने डीएम, एसडीओ से बात कर प्रदर्शनकारियों को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बीपीएल आवेदकों पर लाठीचार्ज