अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सॉरी बोलो और घर जाओ:कोर्ट

उत्तर प्रदेश सरकार को तगड़ा झटका देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने भाजपा के नवोदित फायर-ब्रांड नेता वरुण फिरो गांधी की रिहाई का रास्ता साफ कर दिया है। संभवत: गुरुवार या शुक्रवार को वह जेल से आजाद हो जाएंगे। सर्वोच्च अदालत ने सोमवार को स्वयं कहा कि यदि वरुण गांधी सुप्रीम कोर्ट में यह लिखकर दे दें कि वह दोबारा ऐसा भाषण नहीं देंगे तो उन्हें छोड़ देना चाहिए। शायद उत्तर प्रदेश सरकार की भी यही समस्या है कि वह दोबारा ऐसा भड़काऊ भाषण न दें। कोर्ट के इस रुख से यूपी सरकार को महसूस हुआ है कि वरुण पर रासुका लगाकर उससे गलती हो गई है। वैसे इससे फायदे में वरुण ही रहे, उन्हें मुफ्त की पब्लिसिटी मिल गई। इस मामले में मुलायम सिंह मायावती से ज्यादा तेज निकले, उन्होंने वरुण पर रासुका लगाने का विरोध किया, शायद उन्हें मालूम था कि यह फैसला कोर्ट में नहीं टिक सकेगा। मुख्य न्यायाधीश जस्टिस के.ाी. बालाकृष्णन और पी. सथाशिवम की खंडपीठ के जसे ही माफी की बात कही वरुण के वकील वरिष्ठ अधिवक्ता तथा मुकुल रोहतगी ने कहा कि वह लिखकर देने को तैयार हैं। क्योंकि उनके लिए एक-एक दिन की कीमत है। वह नामांकन (17-24 अप्रैल) कर अपने क्षेत्र में चुनाव का प्रचार करना चाहते हैं, जो जेल में रहकर संभव नहीं है। इधर उत्तर प्रदेश की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे ने कोर्ट से कहा कि इसके लिए उन्हें सरकार से निर्देश लेना पड़ेगा जिस पर कोर्ट ने मामला 16 अप्रैल के लिए स्थगित कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सॉरी बोलो और घर जाओ:कोर्ट