DA Image
26 जनवरी, 2020|10:57|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मगध विवि के कॉलेजों में ओएसडी का छापा

मगध विश्वविद्यालय के कॉलेजों में राजभवन के विशेष कार्य पदाधिकारी डा. आर. कृष्ण कुमार ने छापा मारा। कॉलेजों की व्यवस्था की पड़ताल हुई। गुरु गोविंद सिंह कॉलेज, पटना सिटी में तीन फर्ाी कर्मचारियों को काम करते पकड़ा गया। ओएसडी ने कहा कि जांच केकक्रम में ऐसे लगभग दर्जन भर कर्मचारी यहां काम कर रहे हैं और उनकी पहचान की जाएगी। वहीं कॉलेजों में कर्मचारियों की भारी पैमाने पर अनुपस्थित पाया गया। ओएसडी सुबह म,न बीडी इवनिंग कॉलेज पहुंचे। उपस्थिति पंजी की जांच के क्रम में 58 कर्मचारियों को अनुपस्थित पाया गया।ड्ढr ड्ढr प्राचार्य भी नौ बजे यहां पर पहुंचे। वहीं चार विभागों को भी बंद पाया गया ओएसडी ने कारण जानना चाहा तो उन्हें बताया गया कि छुट्टी के कारण इस प्रकार की स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में पूछे जाने पर कॉलेज के प्राचार्य डा. सुभाष प्रसाद सिन्हा ने बताया कि 40 फीसदी कर्मी समय पर नहीं पहुंच पाए थे। साथ ही जब निरीक्षण के क्रम में ओएसडी का ध्यान चार माह से रुके वेतन की तरफ दिलाया गया तो उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की अनुपस्थिति व वेतन मिलने को एक साथ करके नहीं देखा जा सकता। इसके बाद ओएसडी गुरु गोविंद सिंह कॉलेज, पटना सिटी पहुंचे। जांच के क्रम में यहां पर तीन कर्मचारियों को दूसरे कर्मचारी के नाम पर काम करते पाया गया। रामकेवल सिंह व रामनारायण शर्मा नामक दो व्यक्ित यहां पर 1से दूसर के नाम पर काम करते पकड़ा गया। वहीं सहायक दीनानाथ सिंह को रूटीन क्लर्क अंशु कुमारी व लैब टेकि्नशियन द्वारिका नाथ की हाजिरी बनाकर गलत रूप से वेतन उठाने का आरोपी पाया गया। तीनों को पकड़ कर स्थानीय थाने के हवाले कर दिया गया।ड्ढr ड्ढr ओएसडी ने बताया कि लगभग दर्जन भर इस तरह के मामले कॉलेज में हैं। साथ ही उपस्थिति की जांच के क्रम में 22 कर्मचारियों को अनुपस्थित पाया गया जबकि 23 कर्मचारी ऐसे पाए गए जो हाजिरी बनाकर अनुपस्थित पाए गए। ओएसडी ने इस संबंध में मगध विवि के कुलपति को रिपोर्ट भेज दी है और उसके आधार पर कुलपति कार्रवाई करंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: मगध विवि के कॉलेजों में ओएसडी का छापा