DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मांगों को लेकर मुखिया संघ ने दिया धरना

अपनी विभिन्न मांगों को लेकर प्रखंड के मुखिया द्वारा कार्यालय गेट पर एक दिवसीय धरना का आयोजन किया गया। धरना पर बैठे मुखिया ने सरकार से अफसरों के तानाशाह रवैये के खिलाफ आग उगला। धरने को संबोधित करते हुए मुखिया शैलेन्द्र कुमार ने कहा कि यहां राष्ट्रीय एवं राज्य सामाजिक सुरक्षा पेंशन का दो वर्षो से राशि बकाया है। धरनार्थियों ने कहा कि यहां जनवितरण में अनियमितता बरती जा रही है। गरीबों को राशन कई माह से नहीं मिला है। लोगों को संबोधित करते हुए मुखिया ने कहा कि यहां के एतवारपुर बादशाह पैन पर अतिक्रमणकारी कब्जा जमा लिये हैं। इससे खेती में परशानी होती है। कई बार इसकी शिकायत सीओ से की जा चुकी है। धरना समाप्ति के बाद मांग पत्र बीडीओ को सौंपा गया। खेमस ने किया प्रदर्शनड्ढr मनेर (सं.सू.)। बुधवार को मनेर प्रखंड कार्यालय पर खेमस ने अपनी दस सूत्री मांगों के समर्थन में मनेर प्रखंड कार्यालय पर धरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया। इन मांगों में प्रमुख रूप से नरगा के तहत काम करने वाले मजदूरों के समय को घंटे करने का विरोध किया गया तथा काम की अवधि को 6 घंटा करने की मांग की गयी। मजदूरों को जीवन बीमा सहित मजदूरी की दर को 100 रुपये करने की मांग की गयी तथा मजदूरी को 200 दिन मजदूरी देने की मांग की गयी। सभा को संबोधित करते हुए सुधीर कुमार ने कहा कि सरकार के द्वारा नरगा में चलाई जा रही योजना में लूट खसोट जारी है। यही कारण है कि अभी तक मजदूरों का खाता नहीं खुलवाया गया है। सभा को संबोधित करते हुए गोपाल जी ने कहा कि नरगा में लूट यदि मची है तो सरकार उसके लिए ज्यादा जिम्मेवार है। सरकार की यदि नीयत सही होती तो पहले मजदूरी का बैंक खाता खुलता तब जाकर लोगों को काम मिलता।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मांगों को लेकर मुखिया संघ ने दिया धरना